पणजी, एएनआइ। ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी (AICC) के गोवा प्रभारी दिनेश गुंडू राव ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा पर जमकर हमला किया। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पिछले छह सालों के अंदर भाजपा नेताओं के खिलाफ आइटी, ईडी ने क्यों छापा नहीं मारा। उन्होंने कहा कि हर दिन हम देखते हैं कि ईडी, आयकर विपक्षी दलों पर छापे मार रहे हैं, लेकिन भाजपा के नेताओं के खिलाफ यह छापे क्यों नहीं मारे गए।

राव ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, "भाजपा की भावनाएं आहत हो रही हैं क्योंकि पार्टी या सरकार के कार्यक्रम अब कोई मायने नहीं रखते हैं। अर्थव्यवस्था गिर गई है, हमारी सीमाएं खतरे में हैं, हमारी विदेश नीति ध्वस्त हो गई है और हम अपने पड़ोस में मित्रहीन हैं, कोई डर नहीं है।" इसके साथ ही  महिलाओं और दलितों के लिए सुरक्षा नहीं है'। उन्होंने कहा,' हम देखते हैं ईडी, आयकर विपक्षी दलों पर छापे मार रहे हैं। मुझे पिछले छह वर्षों में एक भाजपा नेता दिखाओ, जो किसी भी प्रवर्तन एजेंसियों द्वारा नोटिस जारी किया गया है'।

आगे उन्होंने कहा कि कई राज्य सरकारें शीर्ष पर रहीं और इस तरह के प्रयासों में करोड़ों रुपये खर्च किए गए। आईटी और ईडी को नहीं पता कि क्या हो रहा है? सीबीआई को नहीं पता कि क्या हो रहा है? राव ने कहा कि यह "देश प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की मिलीभगत से पूंजीपतियों द्वारा चलाया जा रहा है"। उन्होंने कहा, "यह लोकतंत्र नहीं है। यह देश प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की मिलीभगत से बड़े पूंजीपतियों द्वारा चलाया जा रहा है। वे लाभ कमाने के लिए इस देश के मानव और प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग कर रहे हैं। जो विनाशकारी स्थिति है। 

गौरतलब है कि दिनेश गुंडु राव ने पिछले साल चुनाव आयोग, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड और राष्ट्रपति कोविंद कर्नाटक में कांग्रेस नेताओं के इनकम टैक्स के छापे को लेकर पत्र लिखा था। उन्होंने कहा था कि लोकसभा से पहले, कर्नाटक में लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस और जदयू के उम्मीदवारों, नेताओं और उनके समर्थकों के यहां छापे क्यों मारे जा रहे हैं। उन्होंने आगे लिखा था कि केंद्र में सत्ता में रहने वाली पार्टी कर्नाटक और गोवा सर्कल के आयकर आयुक्त के कार्यालय का दुरुपयोग कर रही है, जिसकी अखंडता संदेहास्पद है और जो कांग्रेस और जद (एस) के प्रति निष्ठुर है। इन सब के अधिकारी अपने इन कार्यों की वजह से भाजपा के एजेंट के रूप में काम कर रहे हैं।' 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस