चेन्नई। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बृहस्पतिवार को देश के महत्वाकांक्षी मंगल अभियान की लांचिंग की रिहर्सल की। इसरो के मुताबिक आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा प्रक्षेपण केंद्र में सुबह छह बजे शुरू हुई रिहर्सल पूरी तरह सफल रही।

पढ़ें : मंगल अभियान के पीछे राजनीतिक उद्देश्य नहीं

अधिकारियों के अनुसार रिहर्सल के दौरान इस बात को जांचा गया कि रॉकेट पीएसएलवी-सी 25 मंगल यान यानी मार्स ऑर्बिटर मिशन (एमओएम) को ले जाने में पूरी तरह सक्षम है या नहीं। बृहस्पतिवार दोपहर तक चली इस रिहर्सल के तहत लाल ग्रह की कक्षा तक एमओएम को ले जाने वाले रॉकेट पीएसएलवी-सी 25 के इग्निशन बटन को छोड़कर सभी उपकरणों का परीक्षण किया गया। पीएसएलवी-सी 25 से एमओएम की लांचिंग 5 नवंबर को श्रीहरिकोटा केंद्र से दोपहर बाद 2.36 बजे प्रस्तावित है। 430 करोड़ रुपये की लागत वाले एमओएम के प्रक्षेपण की उल्टी गिनती 3 नवंबर को शुरू होगी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस