नई दिल्ली, जागरण ब्यूरो। सुरक्षा एजेंसियां जैश ए मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर के ऑडियो की सच्चाई की जांच में जुटी है। आतंकी सरगना अजहर ने अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर बनाने की स्थिति में बड़े आतंकी हमले की धमकी दी है।

इसके लिए नौ मिनट का ऑडियो जारी किया है। वैसे भी लंबे समय से आइएसआइ के संरक्षण में अज्ञात स्थान पर रह रहे मसूद अजहर की ताजा धमकी को सुरक्षा एजेंसियां ज्यादा तवज्जो देने के मूड में नहीं है।

अजहर मसूद का ऑडियो ऐसे समय में आया है कि जब दो दिन पहले ही पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान दावा किया है कि भारत के साथ दोस्ती को लेकर पूरे पाकिस्तान की एक राय है और पाक सेना भी यही चाहती है।

ऐसे में आइएसआइ के संरक्षण में रह रहे मसूद अजहर की ओर से ऑडियो जारी कर भारत में तबाही मचाने की धमकी समझ से परे है। सुरक्षा एजेंसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इसके दो मतलब हो सकते हैं। या तो मसूद अजहर का ऑडियो फर्जी है या फिर पाक सेना भारत के साथ संबंध सुधारने पर इमरान खान से सहमत नहीं है और दुश्मनी बनाए रखने के लिए पुराने हथकंडे अपना रही है।

कथित ऑडियो में मसूद अजहर धमकी दे रहा है कि अगर भारत बाबरी मस्जिद की जगह पर राम मंदिर बनाता है, तो दिल्ली से काबुल तक मुसलमान लड़के बदला लेने को तैयार हैं। उसने दावा किया है कि हम लोग पूरी तरह से तबाही फैलाने करने के लिए तैयार हैं।

यही नहीं, उसने दावा किया कि काबुल और जलालाबाद में भारतीय संस्थानों को निशाना उसी ने बनाया गया था। ऑडियो में अस्थायी राम मंदिर और मुसलमानों को डराने का जिक्र है। इसमें धमकी दी गई है कि यदि भारत मंदिर बनाने के लिए धन खर्च करने का माद्दा रखता है, तो वह जान खर्च करने के लिए तैयार है।

इस ऑडियो में करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास पर पाकिस्तानी सरकार द्वारा भारत के मंत्रियों को बुलाने पर नाराजगी जताई है। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी जहर उगला गया है।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस