इंदौर, जेएनएन। 22 वर्षीय मेडिकल छात्रा नेहा आरसे की राजेंद्र नगर ओवरब्रिज से गिरने से मौत हो गई। नेहा सागर मेडिकल कालेज में एमबीबीएस की सेकंड ईयर की छात्रा थी। लॉकडाउन के कारण कालेज बंद होने पर अप्रैल में ही वह इंदौर आई थी।

स्वजन का कहना है कि सेल्फी लेते वक्त नेहा का संतुलन बिगड़ गया और सिर के बल गिर गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस के मुताबिक, हादसा शनिवार रात का है। नेहा के पिता राजेंद्र आरसे निवासी सिलिकान सिटी पॉली हाउस संचालित करते हैं। स्वजन रात करीब आठ बजे नेहा को चोइथराम अस्पताल लेकर पहुंचे लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और बयान दर्ज किए।

राजेंद्र ने बताया कि वह रिश्ते के भाई सौरभ के साथ टहलने निकली थी। राजेंद्र नगर ओवरब्रिज पर दोनों बैठकर बातें कर रहे थे। नेहा ने सौरभ को चिप्स लेने भेज दिया और खुद सेल्फी लेने लगी। अचानक उसका संतुलन बिगड़ गया और सिर के बल नीचे गिर गई। पुलिस के मुताबिक नेहा की मौके पर ही मौत हो गई थी। रविवार सुबह पोस्टमार्टम करवाकर शव स्वजन के सुपुर्द कर दिया गया। राजेंद्र ने आत्महत्या से तो इन्कार किया है। टीआइ अमृता सोलंकी के मुताबिक, अभी मोबाइल जब्त नहीं हुआ है। पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है।

सेल्फी लेते समय तालाब में बहे दो किशोर

इन दिनों सेल्फी लेने का क्रेज लोगों में बढ़ता जा रहा है। इस दौरान कई ऐसे मामले भी सामने आए हैं जिनमें लोगों के साथ बड़ा हादसा हो गया। इसी साल मार्च के महीने में उत्तर प्रदेश के कासगंज में ऐसा ही एक मामला सामने आया था जिसमें सेल्फी के चक्कर में दो किशोर तालाब में बह गए थे। तालाब के किनारे सेल्फी ले रहा किशोर पैर फिसलने से डूबने लगा। उसे बचाने के लिए साथी युवक ने तालाब में छलांग लगा दी। दोनों की चीखें सुन आसपास के लोगों ने किसी प्रकार दोनों किशोरों को तालाब से निकाला। एक की मौके पर मौत हो गई थी।

Edited By: Neel Rajput