नई दिल्ली। भारत राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल की अगले हफ्ते होने वाली चीन यात्रा के दौरान जैश सरगना मसूद अजहर का मुद्दा उठाएगा। कुछ ही दिन पहले मसूद को संयुक्त राष्ट्र में प्रतिबंधित कराने की भारतीय कोशिश पर चीन ने पानी फेर दिया था। सरकार के वरिष्ठ सूत्रों ने शनिवार को बताया कि एनएसए अजित डोभाल चीन में अपने प्रतिपक्षी और सरकारी काउंसलर यांग जेची से मुलाकात के दौरान चीन के इस आतंकवाद समर्थक कदम का मुद्दा उठाएंगे।

डोभाल पहले यह बातचीत जनवरी में प्रस्तावित द्विपक्षीय वार्ता के दौरान करना चाहते थे। लेकिन पठानकोट हमले के मद्देनजर उन्हें अपनी बीजिंग यात्रा स्थगित करनी पड़ी थी। डोभाल और यांग जेची के बीच मुलाकात के दौरान सुरक्षा मुद्दों के साथ ही सीमा पर भी बातचीत होनी है। विदेश सचिव एस.जयशंकर ने इस हफ्ते की शुरुआत में ही कहा था कि संयुक्त राष्ट्र में मसूद अजहर को प्रतिबंधित नहीं करने पर भारत बहुत ही उच्च स्तर पर चीन से बात करेगा। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज भी इस मुद्दे को चीनी विदेश मंत्री वांग यी के समक्ष 18 अप्रैल को मास्को में होने वाली मुलाकात के दौरान उठाएंगी।

पठानकोट के मुद्दे पर कांग्रेस की दो टूक, पाक उच्चायुक्त को भारत से निकाले सरकार

मुशर्रफ ने कहा ओसामा हमारा हीरो तो डोभाल बोले जैसे लोग वैसा हीरो

Posted By: Kamal Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस