नई दिल्ली, एजेंसी। कई बार आपने सुना होगा की भारतीय रेलवे (Indian Railways) से किसी व्यक्ति ने ट्विटर के जरिए मदद की गुहार लगाई तो रेलवे ने उसे तुरंत सहायता पहुंचाई। ऐसे ही एक शख्स ने भारतीय रेलवे सेवा (Indian Railways Seva) को टैग करते हुए ट्वीट किया कि वह अपनी मां से बात नहीं कर पा रहा है। रेलवे ने उसकी मदद करते हुए शख्स की मां से बात करवाई।

दरअसल, जिल ट्रेन में उसकी मां सफर कर रही थी वह 12 घंटे लेट थी। बेटा बार-बार अपनी मां से संपर्क करने की कोशिश कर रहा था लेकिन, वह अपनी मां से बात नहीं कर पा रहा था। वह जानना चाहता था कि उसकी मां ठीक है या नहीं, रेलवे सेवा ने ना सिर्फ उसके सवालों के जवाब दिया बल्कि उसकी मां से बात भी करवाई। 

साश्वत नाम के ट्वीटर यूजर ने ट्वीट करते हुए लिखा कि सर मैं अपनी मां से बात नहीं कर पा रहा हूं। मेरी मां का नाम शीला पांडे है। वह  अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के कोच नंबर S5 में बैठी हैं। ट्रेन 12 घंटे लेट है। मेरी ये जानने में मदद करें की वो वहां ठीक हैं। उन्होंने इस ट्वीट में  रेलवे मंत्री पीयूष गोयल और रेलवे मंत्रालय को भी टैग किया था। इसपर तुरंच ही रेलवे सेवा ने जवाब दिया। 

रेलवे सेवा ने जवाब देते हुए रहा कि कृप्या करके  बोर्डिंग की तारीख और बोर्डिंग स्टेशन का नाम शेयर करें। साश्वत ने संबंधित अधिकारी को जानकारी भेज दी। इसके कुछ ही घंटे बाद साश्वत ने रेलवे को धन्यवाद किया। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि तुरंत एक्शन लेने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। मैं मदद के लिए आपका आभारी हूं।  

रेलवे मंत्रालय की तरफ से ट्वीट आया कि भारतीय रेलवे अपने यात्रियों की देखभाल करती है। एक बेटा अपनी मां से बात नहीं कर पा रही था जोकि ट्रेन में सफर कर रही थी। हमने दोनों की बात कराई। इसके आगे रेलवे ने लिखा, अपनों को अपनों से जोड़ती भारतीय रेल।

  

इस पूरे मामले के बाद ट्वीट पर लोग रेलवे की जमकर तारीफ कर रहे हैं। एक यूजर ने लिखा कि भारतीय रेलवे इस मामले में बहुत गंभीर है। 

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप