नई दिल्ली, प्रेट्र। देश में जारी 21 दिनों का लॉकडाउन खुलने के बाद यात्राओं के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव और सामाजिक दूरी कायम रखने के मापदंडों के लिए रेलवे ने अभी से सारे जतन शुरू कर दिए हैं। यात्रा संबंधी प्रतिबंध हटने के बाद वह रेल यात्रियों के लिए एडवाइजरी जारी करने संबंधी सुझावों पर विचार कर रहा है। इसमें यात्रा से पहले अनिवार्य रूप से सामाजिक दूरी का पालन करने की शर्त के साथ ही अपने स्वास्थ्य पर नजर रखने के लिए सभी को 'आरोग्य सेतु' ऐप का भी इस्तेमाल करने की हिदायत दे सकता है। सिर्फ स्वस्थ यात्रियों को ही रेल से सफर करने का भी निर्देश दिया जा सकता है।

सरकार की मंजूरी के बाद चरणबद्ध तरीके से होंगी रेल सेवाएं बहाल

अधिकारियों का कहना है कि कोरोना वैश्विक महामारी के चलते विगत 25 मार्च से जारी देशव्यापी लॉकडाउन के तहत सभी यात्री रेलों का सफर भी स्थगित है। रेल यात्रा फिर शुरू करने की सरकार से हरी झंडी मिलने के बाद रेलवे यात्राएं चरणबद्ध तरीके से शुरू करेगा। अधिकारियों ने बताया कि आने वाले हफ्ते में यह फैसला लिया जाएगा कि रेल सेवाएं फिर से किस तरह बहाल की जाएं। रेलवे अपने 19 मार्च के उस फैसले पर भी विचार करेगा, जिसके चलते रेल यात्रियों को टिकटों पर मिलने वाली सभी छूटों को बंद कर दिया गया था। यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग और अन्य जांच की प्रक्रियाओं को भी निर्धारित किए जाने की जरूरत है। रेल यात्राएं शुरू होने के बाद सभी यात्रियों से मुंह पर मास्क पहनने की भी अपील की जाएगी। साथ ही आरोग्य सेतु ऐप भी इस्तेमाल करने को कहा जाएगा। साथ ही केवल सेहतमंद यात्रियों को ही सफर करने को कहा जाएगा।

राजस्‍व की ओर नहीं, यात्रियों की सुरक्षा रेलवे का ध्‍यान 

रेलवे ने अपनी सेवाएं बहाल करने के विकल्पों पर चर्चा की है। रेलवे बोर्ड की ओर से हरेक ट्रेन पर मंजूरी के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी। रेलवे बोर्ड के प्रत्येक जोन को चरणबद्ध तरीके से बहाल किए जाने का सुझाव दिया गया है। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह बेहद संवेदनशील समय है और हमारा ध्यान राजस्व जुटाने की ओर फिलहाल नहीं है। हमारा पूरा ध्यान यात्रियों की सुरक्षा पर है और यह सुनिश्चित करना है कि कोरोना वायरस का संक्रमण और न फैले।

जैसे ही सरकार हरी झंडी देगी ट्रेने उसी के अनुरूप संचालित होंगी। फिलहाल इस संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया गया है। बोर्ड की ओर से जोन की कौन सी ट्रेनों को पहले शुरू किया जाए, इस पर भी कोई फैसला नहीं हुआ है। अभी इस बात पर विचार चल रहा है कि प्रवासियों के रूट वाली ट्रेनों को पहले चलाया जाए, या फिर उन रूटों की ट्रेनों को चलाया जाए जहां ज्यादा हलचल के आसार नहीं हैं। अधिकारियों ने कहा कि रेलवे को अभी यह भी देखना है कि लॉकडाउन किस तरीके से खुलता है। अगर यह कुछ चयनित क्षेत्रों के लिए होगा तो उन्हीं क्षेत्रों के लिए ट्रेनें चलेंगी।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस