नई दिल्ली, एएनआइ। रेलवे की नई समय-सारिणी आज से प्रभाव में आ जाएगी। इससे 500 ट्रेनों का टाइम टेबल आज से बदल जाएगा। रेलवे इसके तहत छह नई ट्रेनों की शुरुआत करेगी। ये ट्रेनें तेजस, हमसफर और अंत्योदय एक्सप्रेस सरीखी ट्रेनों के रूप में दौड़ेंगी, जबकि बाकी ट्रेनों की रफ्तार और फ्रिक्वेंसी में इजाफा किया गया है, जिससे समय की बचत की जा सके।

भारतीय रेल के नए शेड्यूल के मुताबिक, तेजस ट्रेन हफ्ते में छह दिन नई दिल्ली से चंडीगढ़ के बीच चलेगी। हफ्ते में एक हमसफर एक्सप्रेस भी होगी, जो सियालदाह से जम्मू तवी का सफर तय करेगी। वहीं हमसफर एक्सप्रेस तीन हफ्तों में एक बार इलाहाबाद से आनंद विहार जाएगी, जबकि एक साप्ताहिक अंत्योदय एक्सप्रेस बिलासपुर-फिरोजपुर और दरभंगा-जालंधर के बीच दौड़ेगी।

भारतीय रेल ने कुछ ट्रेनों को सुपरफास्ट में अपग्रेड करने के अलावा 17 अन्य ट्रेनों की रफ्तार को बढ़ाया है। नई समय सारिणी में रेलवे के हर जोन की ट्रेनों की रफ्तार में इजाफा किया गया है। उत्तर रेलवे जोन की 36 ट्रेनों के प्रस्थान समय में फेरबदल किया गया है। रेलवे इसके साथ ही 65 रेलगाड़ियों की रफ्तार बढ़ाएगा। दक्षिण रेलेवे के तहत चलने वाली 51 एक्सप्रेस ट्रेनों और 36 पैसेंजर ट्रेनों की गति बढ़ाई गई है।

यह भी पढ़ें: 35 घंटे तक विलंबित रहीं ट्रेनें, बसों पर बढ़ा बोझ

जिन ट्रेनों के टाइम टेबल में बदलाव किया गया है वैसे उनकी लिस्ट काफी लंबी है लेकिन इसमें कुछ खास ट्रेनें हैं जैसे कि (11058) अमृतसर-छत्रपति शिवाजी ट्रर्मिनल एक्सप्रेस, (12276) नई दिल्ली-इलाहाबाद दुरंतो, (15013) जैसलमेर- काठगोदाम एक्सप्रेस, (14723) कानपुर सेंट्रल-भिवानी कालिंदी एक्सप्रेस, (22868) हजरत निजामुद्दीन-दुर्ग हमसफर एक्सप्रेस, (14673) जयानगर-अमृतसर एक्सप्रेस के साथ अन्य ट्रेनें शामिल हैं। रेलवे ने इसके साथ-साथ कुछ ट्रेनों की रफ्तार और फ्रिक्वेंसी में बढ़ोतरी की है।



मंगलवार को रेल मंत्रालय ने भी ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है। भारतीय रेल के नए समय-सारिणी के मुताबिक सप्ताह में एक हमसफर एक्सप्रेस होगी जो कि सियालदाह से जम्मूतवी तक चलेगी। वहीं हमसफर एक्सप्रेस हफ्ते में एक बार इलाहाबाद से आनंद विहार तक चलेगी। जबकि तेजस ट्रेन हफ्ते में छह दिन नई दिल्ली से चंडीगढ़ के बीच चलेगी। वहीं एक सप्ताहिक अंत्योदय एक्सप्रेस बिलासपुर-फिरोजपुर और दरभंगा-जालंधन के बीच चलेगी। भारतीय रेलवे ने नए टाइम टेबल में दो जोड़ी ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी बढ़ाई गई है जबकि 65 ऐसी ट्रेनें हैं जिनकी स्पीड बढ़ा दी गई है। 

Posted By: Tilak Raj