नई दिल्ली, आईएएनएस : इन गर्मियों की छुट्टियों में अगर आप भी रेल यात्रा करने का प्‍लान बना रहे हैं और रेलवे स्‍टेशनों के टिकट काउंटरों पर लगने वाली लंबी कतारों के बारे में सोचकर परेशान हो रहे हैं तो ये खबर आपके लिए ही है। भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए उन्हें वेटिंग और लम्बी कतारों से मुक्ति देते हुए टिकटिंग की नई सुविधा शुरू की है। इसके तहत रेल यात्री अब यात्रा टिकट, प्लेटफॉर्म टिकट और मंथली पास के नवीकरण के लिए ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन पर पेटीएम, फोनपे, फ्रीचार्ज जैसे यूपीआई बेस्ड मोबाइल ऐप से क्यूआर कोड स्कैन कर डिजीटल पेमेंट कर सकेंगे।

नई सुविधा में यात्री ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन से मिलने वाली सुविधाओं के लिए डिजिटल ट्रांजेक्शन से भी भुगतान कर सकेंगे। यात्री इसके जरिये एटीवीएम स्मार्ट कार्ड को भी रिचार्ज करा सकते हैं। रेलवे की तरफ से इस सुविधा को शुरू करने के मौके पर यात्रियों से अपील की कि ज्यादा से ज्यादा डिजीटल मोड में पेमेंट करें और लंबी लाइन से छुटकारा पाएं। ऐसे स्टेशनों को पर अक्सर रेलवे बोर्ड को यात्रियों की तरफ से घंटों लाइन में लगकर टिकट लेने की शिकायत मिली थी। कई बार स्टेशनों पर लंबी-लंबी लाइन में लगने से यात्रियों की ट्रेन छूट जाती है।

पहले चरण में इसे कुछ ही स्टेशनों पर शुरू किया गया है। धीरे-धीरे देश भर में सभी स्टेशनों पर इस सुविधा का लाभ यात्री उठा सकेंगे। उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी कैप्टन शशि किरण के अनुसार इसके लिए रेलवे स्टेशनों पर लगाए गए एटीवीएम में सभी सेवाओं के लिए यूपीआई क्यूआर कोड की व्यवस्था की गई है। क्यूआर कोड को स्कैन कर यात्री फोन के माध्यम से डिजीटल भुगतान कर टिकट प्राप्त कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त यात्री एवीटीएम स्मार्ट कार्ड रिचार्ज करने के लिए भी इसका प्रयोग कर सकते हैं। इसे स्कैन करने और पेमेंट करने के बाद यात्रियो को तुरन्त अपने गंतव्य का टिकट मिल जाएगा।

Edited By: Praveen Prasad Singh