नई दिल्ली, एएनआइ। पाकिस्तान में अफगानिस्तान के राजदूत की बेटी के अपहरण के बाद भारतीय मिसन को हई अलर्ट पर रखा गया है। इस्लामाबाद में अफगान राजनयिक नजीबुल्लाह अलीखिल की बेटी सिलसिला अलीखिल के अपहरण के प्रयास के बाद भारतीय मिशन के कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों को सतर्क रहने और अतिरिक्त सुरक्षा सावधानी बरतने के लिए कहा गया है। सूत्रों ने कहा कि वे नियमित रूप से उच्चायोग कर्मियों को अलर्ट जारी करते रहे हैं।

अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय (MoFA) के बयान के अनुसार, सिलसिला अलीखिल का शुक्रवार, 16 जुलाई को कई घंटों तक अपहरण कर के रखा गया था। इस दौरान अज्ञात व्यक्तियों द्वारा उसे गंभीर रूप से प्रताड़ित भी किया गया। बयान में कहा गया है कि अपहरणकर्ताओं की कैद से रिहा होने के बाद सिलसिला अलीखिल अस्पताल में चिकित्सा देखभाल में है।

विदेश मंत्रालय ने इसे जघन्य कृत्य बताते हुए इसकी कड़ी निंदा की है। बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान में अफगान राजनयिकों, कर्मचारियों और उनके परिवारों और की सुरक्षा को लेकर गहरी चिंता है। अफगान विदेश मंत्रालय पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय से मामले पर जानकारी ले रहा है। हम पाकिस्तानी सरकार से जल्द से जल्द अपराधियों की पहचान करने और उन पर मुकदमा चलाने का आग्रह करते हैं।

अफगानिस्तान के विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान में अफगान दूतावास और वाणिज्य दूतावासों की पूर्ण सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय संधियों और सम्मेलनों के अनुसार देश के राजनयिकों और उनके परिवारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल आवश्यक कार्रवाई करने का आह्वान किया है।

पाकिस्तान की पुलिस के मुताबिक 26 वर्षीय सिलसिला अलीखिल को इस्लामाबाद के कोहसर इलाके के महंगे राणा मार्केट से शुक्रवार को अगवा किया गया। बाद में वे राजधानी के एफ-9 पार्क इलाके के पास मिलीं। उनके शरीर पर प्रताड़ना के निशान मिले। उन्हें पाकिस्तान इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंस लाकर मेडिकल जांच कराई गई।

यह भी पढ़ें- पाकिस्तान में अफगान राजदूत की बेटी को अगवा कर दी गई यातनाएं, विपक्ष ने इमरान खान को घेरा

Edited By: Manish Pandey