न्‍यूयॉर्क, पीटीआइ। अमेरिका में एक भारतीय नागरिक को भारत में आतंकी साजिश करने का दोषी करार देते हुए 180 महीने (15 साल) की सजा सुनाई गई है। बलविंदर सिंह नाम के इस 42 वर्षीय शख्‍स ने एक अलग सिख राज्य 'खालिस्‍तान' बनाने की साजिश रची थी।

बलविंदर खालिस्तान आतंकियों से जुड़ा था और एक भारतीय अधिकारी की हत्या में भी शामिल रहा था। इसके साथ ही बलविंदर पर आतंकियों को चोरी-छिपे डॉक्युमेंट्स मुहैया कराने के गंभीर आरोप थे। सभी आरोपों में बलविंदर को मंगलवार को अमेरिका के एक कोर्ट में जज लैरी हिक्स ने दोषी करार देते हुए 180 महीने जेल में रहने की सजा सुनाई।
अमेरिका के नेवादा शहर के अटॉर्नी डेनियल बोगडेन ने कहा, 'बलविंदर रेनो शहर का रहने वाला है। वह दो आतंकी गुटों का मेंबर था। वह अफसरों को धमकाता था। जो उसकी मदद नहीं करता था, उसे नुकसान पहुंचाता था। बलविंदर ने एक अलग सिख राज्य बनाने की साजिश रची थी। इसके लिए उसने आतंकियों को कई तरह का सामान और जानकारी मुहैया कराई।'
बोगडेन ने कहा यह केस बताता है कि कई लॉ एन्फोर्समेंट एजेंसीज एक साथ मिलकर कैसे यूएस को आतंकवादी गतिविधियों से बचाने का काम कर रही हैं। कोर्ट डॉक्युमेंट के मुताबिक, सितंबर से दिसंबर 2013 के बीच बलविंदर ने खालिस्तान मूवमेंट के लिए भारत में आतंकी साजिश में शामिल था। वह कई मौकों पर एक अन्य साजिशकर्ता से मिलने रेनो से कैलिफोर्निया जाता था।
बलविंदर ने माना है कि साउथ एशिया में कई जगहों पर जाने के लिए उसने एक अन्य साजिशकर्ता की मदद ली और जरूरी डॉक्युमेंट्स मुहैया करवाए।

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप