नई दिल्ली, प्रेट्र। एक वरिष्ठ नौकरशाह ने ब्रिटिश एयरवेज पर नस्ली भेदभाव और दु‌र्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। पिछले महीने लंदन से बर्लिन जाने के दौरान नौकरशाह और उनके परिवार को उड़ान भरने के आखिरी मिनट में विमान से उतार दिया गया। उनका तीन साल का बेटा विमान में रो रहा था इसलिए उन्हें उतारा गया था।

नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु को भेजे गए पत्र में बताया है कि उनके पीछे बैठे एक और भारतीय परिवार को उतार दिया गया क्योंकि उन्होंने बच्चे को चुप करने के लिए बिस्कुट दिया था। यह घटना 23 जुलाई को हुई थी। नौकरशाह ने आरोप लगाया है कि क्रू विमान (बीए 8495) को टार्मेक पर वापस लाया जहां सुरक्षाकर्मियों ने उनसे उनका बोर्डिग पास ले लिया।

कस्टमर केयर सेवा प्रबंधक ने उन्हें विमान से उतारे जाने का कारण नहीं बताया न ही प्रबंधन ने शिकायत करने पर क्रू के खिलाफ कोई कार्रवाई की।नौकरशाह ने कहा है, 'हमें अपने ठहरने और बर्लिन की यात्रा करने के लिए खुद ही व्यवस्था करनी पड़ी।

इस पर बहुत ज्यादा राशि खर्च हुई।' उन्होंने बताया है कि दूसरे भारतीय परिवार को अगले दिन विमान का टिकट दिया गया। यह नौकरशाह सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय में संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी हैं।

 

By Tilak Raj