दमन, एजेंसी। भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard) ने बुधवार को केंद्रशासित प्रदेश दादरा नगर हवेली और दमन दीव में दमन तट के पास एक डूबती नाव से 14 मछुआरों को हेलिकॉप्टर की मदद से बचाया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।

दमन में तट रक्षक बल एयर स्टेशन के डिप्टी आईजी और कमांडिंग ऑफिसर एसएसएन बाजपेई ने कहा कि दमन के तट पर एक डूबती नाव से 11 मछुआरों को एक हेलीकॉप्टर की सहायता से एयरलिफ्ट कर दोपहर तक उन्हें किनारे लाया गया। बाकि अन्य तीन जिन्होंने नाव को छोड़ने से इंकार कर दिया था उनको भी शाम तक बचा लिया गया।

इंजन फेल होने के कारण नाव में भरा पानी

मुंबई में रजिस्टर्ड मछली पकड़ने वाली नाव मंगलवार को गुजरात के नवसारी से अपनी यात्रा शुरू की और वह मुंबई की ओर जा रही थी। बाजपेई ने पत्रकारों से कहा, नाव मंगलवार की रात जब दमन तट से करीब 16 नॉटिकल मील की दूरी पर थी तभी उसका इंजन फेल हो गया। इंजन फेल होने के कारण नाव में घुसा हुआ पानी बाहर नहीं निकल पाया और पानी बढ़ने के कारण नाव पानी में डूबने लगा।' उन्होंने कहा कि चालक दल ने नाव के इंजन को चालू करने की कोशिश की लेकिन इंजन शुरू नहीं हुआ तो उन्होंने तट रक्षक बल से मदद के लिए संपर्क किया।

हेलीकॉप्टर से मछुआरों को बचाया गया

कमांडिंग ऑफिसर बाजपेई ने बताया कि बुधवार सुबह 11:35 पर एक फोन कॉल रिसीव की गई, जिसमें इसके बारे में बताया गया। कॉल पर प्रतिक्रिया देते हुए दमन तट रक्षक बल ने अपने हवाई स्टेशन से एक हेलीकॉप्टर भेजकर चर उड़ानों में कुल 11 मछुआरों को एयरलिफ्ट करा लिया। उन्होंने कहा कि नाव को चला रहे कप्तान और दो अन्य मछुआरों ने नाव की इंजन को शुरू करके अपनी नाव को बचाने की उम्मीद में खुद को एयरलिफ्ट करने से इंकार कर दिया लेकिन जब वे नाव के इंजन को शुरू करने में कामयाब नहीं हो पाए तो उनको भी शाम तक एयर लिफ्ट कर लिया गया और तट रक्षक बल के एयर स्टेशन पर लाया गया। बचाए गए सभी मछुआरों को मत्स्य विभाग को सौंप दिया गया है।

Edited By: Sonu Gupta