श्रीनगर, एएनआइ। भारतीय सेना ने अगस्त के पहले हफ्ते में कुपवाड़ा के केरन सेक्टर में एलओसी के पास पाकिस्तानी बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) द्वारा घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया था। अब एक वीडियो सामने आया है जिसमें बैट आर्मी या आतंकियों के शवों को हथियारों के साथ देखा जा सकता है। 

हाल में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी बैट द्वारा केरन और माछिल सेक्टर में भी घुसपैठ कराने की कोशिश को नाकाम कर दिया था। भारतीय सेना सीमा पर घुसपेठ को लेकर हाई अलर्ट पर है। पाकिस्तान हाल ही में LoC पर बहुत सक्रिय नजर आ रहा है। जम्‍मू-कश्‍मीर की स्थिति को बिगाड़ने के लिए गुलाम कश्‍मीर और सीमा वर्ती इलाकों में काफी संख्‍या में आतंकी घुसपैठ की फिराक में हैं। 

कार्रवाई में पाकिस्‍तानी बैट के पांच से सात सदस्य मारे गए
ज्ञात रहे कि पाकिस्तानी सेना और बैट दस्ते (बॉर्डर एक्शन टीम) ने 3 अगस्‍त को उत्तरी कश्मीर में केरन (कुपवाड़ा) सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर एक भारतीय सैन्य चौकी पर हमले का प्रयास किया, जिसे सेना के सतर्क जवानों ने नाकाम कर दिया था। बताया जाता है कि भारत की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्‍तानी बैट के पांच से सात सदस्य मारे गए हैं। भारतीय सेना ने पिछले दस दिनों में इस क्षेत्र में बैट दस्ते का यह दूसरा हमला नाकाम किया है।

रक्षा विभाग के सूत्रों के अनुसार, इस साल के आठ महीनों में जम्मू-कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा 139 आतंकवादियों को ढेर किया गया है। इसमें नियंत्रण रेखा(LoC) के साथ-साथ झड़पों में मारे गए आतंकियों के साथ-साथ राज्य के भीतरी इलाकों में सेना के साथ विभिन्न एनकाउंटर में  ढेर किए गए आतंकी शामिल हैं। हालांकि, इन ऑपरेशनों में सेना के विभिन्न रैंकों से जुड़े 26 जवान शहीद हुए हैं। 

यह भी पढ़ें: पीओके में पाक की बर्बर कार्रवाई, सेना के खिलाफ आवाज उठा रहे 22 लोगों को किया अरेस्‍ट

जानिए पाकिस्‍तानी बैट के बारे में, कैसे करती है काम
- बैट (BAT)यानी पाकिस्तानी बॉर्डर एक्शन टीम, यानि ऐसी टीम जो क्रूरता की सभी हदों को लांघ जाती है।
- बैट कमांडो पर कई बार भारतीय सैनिकों के शवों को क्षत-विक्षत करने का आरोप लगा ह‍ै।
- शहीद हेमराज का सिर काटने का आरोप भी बैट कमांडो पर लगा था।
- बैट जब भी सीमा पर भारतीय सेना को शिकार बनाने का प्रयास करती है तो पाकिस्‍तानी रेंजर्स उन्हें कवर फायरिंग देते हैं।
- इस दस्‍ते में सेना के कमांडो के साथ आतंकी भी शामिल होते हैं।
- बैट भारत-पाकिस्तान सीमा में एक से तीन किलोमीटर तक हमले को अंजाम देती है।
- पाकिस्तान आर्मी कैंप में बैट कमांडो की ट्रेनिंग होती है।
- इन्हें बर्फ, पानी, हवा, जंगल और मैदान में मार करने का प्रशिक्षण दिया जाता है।
- ये हमेशा अपने साथ हाई एनर्जी फूड लेकर चलते हैं।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस