नई दिल्ली, एएनआइ। भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) की पूर्वी वायु कमान (Eastern Air Command) ने अभ्यास करने की योजना बनाई है। पूर्वी वायु कमान अपने संचालन के क्षेत्र दीमापुर, इम्फाल, कोलकाता, पासीघाट और अंडाल में छह हवाई क्षेत्रों से लड़ाकू अभियानों का अभ्यास करेंगे। यह अभ्यास दो 16-19 अक्टूबर और 19 अक्टूबर से 1 नवंबर 2019 तक दो चरणों में होगा। 

दो चरणों में होने वाला अभ्यास भारतीय वायुसेना के क्रू से परिचित कराएगा, जो कि इन व्यस्त हवाई क्षेत्रों में उड़ान भरने की प्रक्रिया और नागरिक समकक्षों के साथ समन्वय करेगा। सैन्य अभियानों के संचालन में इन हवाई क्षेत्रों में नागरिक अधिकारियों को परिचित करने में मदद मिलेगा। सुखोई SU-30MKI और Hawk 132 इस अभ्यास में भाग लेंगे।

हिंडन एयरफोर्स स्टेशन पर हुआ था एयर शो

बता दें कि अभी हाल ही में भारतीय वायुसेना दिवस पर गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरफोर्स स्टेशन पर 87वें भारतीय वायुसेना दिवस पर एयर शो का कार्यक्रम किया गया था। भारतीय वायुसेना के एयर शो में सेना के जांबाज जवानों ने हैरतंगेज करतब दिखाए थे। पाकिस्तान के बालाकोट में बम बरसाने वाले मिराज-2000 लड़ाकू विमान को भी एयर शो में शामिल किया गया था।

गौरतलब है कि सुखोई SU- 30MKI भारतीय वायुसेना का का लड़ाकू विमान है। यह बहु-उपयोगी लड़ाकू विमान रूस के सैन्य विमान निर्माता सुखोई तथा भारत के हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड के सहयोग से बना है। इसके नाम में शामिल MKI का मतलब रूसी भाषा में Modernizirovannyi, Kommercheskiy, Indisk है। 

यह भी पढ़ें: VIDEO:जब ताबूत से आने लगी मुझे बाहर निकालो की आवाज, हंसने लगे Cemetery में शामिल लोग

यह भी पढ़ें: बीपी बढ़ने पर अपनाएं ये घरेलू नुस्खा, तुरंत मिलेगा आराम, कई बीमारियों में है कारगर

 

Posted By: Dhyanendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप