नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। दुनिया देखने वालों की संख्या पिछले आठ साल से लगातार बढ़ रही है। संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन (यूएनडब्ल्यूटीओ) के मुताबिक 2017 में दुनिया भर में रिकॉर्ड 1.32 अरब लोग विभिन्न पर्यटन स्थलों पर गए। दक्षिण एशिया क्षेत्र में इस मामले में भारत अव्वल रहा। यानी इस पूरे क्षेत्र में पर्यटकों का आगमन सबसे ज्यादा भारत में हुआ।

वैश्विक राजस्व

यूएनडब्ल्यूटीओ के मुताबिक पर्यटन दुनिया का 9 % तीसरा सबसे बड़ा निर्यात का प्रकार है। 2017 में पर्यटन से विश्व को 1.3 लाख करोड़ डॉलर की कमाई हुई जो पिछले साल के मुकाबले पांच फीसद ज्यादा है। अंतरराष्ट्रीय पर्यटन से कुल निर्यात 1.6 लाख करोड़ या रोजाना चार अरब डॉलर है। यह दुनिया के कुल निर्यात का सात फीसद है।

भारत के दम पर चमका दक्षिण एशिया

दक्षिण एशिया में लगातार पर्यटकों के आगमन संख्या में वृद्धि की मुख्य वजह भारत का शानदार प्रदर्शन रहा है। इस पूरे क्षेत्र में पर्यटकों की पसंद में अव्वल बना रहा। पश्चिमी देशों के लोगों की भारत देखने की ललक और आसान वीजा प्रक्रिया ने अहम भूमिका निभाई।

आगमन में रिकॉर्ड वृद्धि

पिछले साल अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों का आगमन 6.8 फीसद की दर से बढ़ा। 2009 की आर्थिक मंदी के बाद इस क्षेत्र में यह सर्वाधिक वृद्धि है। यूएनडब्ल्यूटीओ ने भी अपने एक पूर्वानुमान में बताया था कि 2010 से 2020 तक अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों के आगमन में सालाना 3.8 फीसद वृद्धि हुई। एक तरह इस संस्था का आकलन भी गलत साबित हुआ।

अद्भुत संयोग

पर्यटकों की शीर्ष 10 गंतव्य स्थलों में से सात ऐसे हैं जो अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों के आगमन और उनसे होने वाली कमाई में शीर्ष पर हैं। इनमें चीन, फ्रांस, जर्मनी, इटली, स्पेन, यूके और अमेरिका शामिल हैं।  

Posted By: Sanjay Pokhriyal