नई दिल्ली, जेएनएन। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने कहा है कि पाकिस्तान की ओर से अंतरराष्ट्रीय फोरम का दुरुपयोग हकीकत नहीं बदल सकता। एक तरफ पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ जहां अपनी घरेलू जनता के सामने कश्मीर और आंतकी बुरहान वानी को कश्मीर का लाल बता रहे थे।

वहीं दूसरी ओर बुधवार को भारत ने संयुक्त राष्ट्र में इसका सख्त जवाब देते हुए कहा कि पड़ोसी देश का नजरिया बीते जमाने की बात हो चुकी है और अब इस पर कोई ध्यान देने वाला नहीं है।

अकबरुद्दीन ने कहा कि पाकिस्तान की ओर से लोगों को भ्रम में डालने का समय अब पूरा हो चुका है। पाकिस्तान के प्रति हमारी प्रतिक्रिया दृढ़ है। जम्मू और कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और हमेशा रहेगा।

उन्होंने कहा कि वो देश जो दुनिया के बीच खुद को आतंक का केंद्र साबित कर चुका है उसके कश्मीर को लेकर दावे वैश्विक समुदाय के बीच कोई स्थान नहीं रखते।

सैयद अकबरुद्दीन का बयान से पहले इसी मंच से चंद रोज पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को सख्त संदेश दिया था। इसी मंच का इस्तेमाल करते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अंतरराष्ट्रीय हस्तक्षेप की अपील की थी जिसे मोटे तौर पर अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने नजरअंदाज कर दिया।

पढ़ें- पाकिस्तान के मंसूबों पर इस तरह पानी फेर रहा है भारत

पढ़ें- सर्जिकल स्ट्राइक के हैं सबूत, इसलिए जारी नहीं करेगी सरकार

Posted By: Abhishek Pratap Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप