मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, राजौरी। पाकिस्तानी सेना के दुस्साहस का भारतीय सेना ने कड़ा जवाब दिया है। मंगलवार शाम को जम्मू के पुंछ जिले में सीमा पार से गोलाबारी के बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान की कई चौकियों को तबाह कर दिया। इसमें कई पाक सैनिकों के भी मारे जाने की खबर है। पाकिस्तान सेना की कई पोस्टों से देर रात तक धुआंं  उठता दिखा। भारतीय सेना अलग-अलग जगह से पाक सेना को जवाब दे रही है। हालांकि कितनी पाकिस्तानी पोस्ट तबाह हुई और कितने सैनिक मारे गए, अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन माना जा रहा है कि पाक सेना को भारी कीमत चुकानी पड़ी है।

पाकिस्तान सेना ने मोर्टार दागे
बता दें कि मंगलवार सुबह जम्मू के पुंछ जिले की कृष्णा घाटी में नियंत्रण रेखा पर निरीक्षण करने गए भारतीय सेना की एक जिप्सी को निशानी बनाकर पाकिस्तान सेना ने जमकर मोर्टार दागे। अचानक हुई इस गोलाबारी की चपेट में आने से जिप्सी चालक नायक शहीद हो गए, जबकि उसमें सवार लेफ्टिनेंट कर्नल सहित दो अधिकारी और दो जवान गंभीर रूप से घायल हुए थे।

डबराज गांव में भारी गोलाबारी
इसी दौरान पाकिस्तान ने कृष्णा घाटी के डबराज गांव में भी भारी गोलाबारी की। इससे वहां भी एक नागरिक की मौत हो गई। पाकिस्तान में हुई तबाही को इसी का जवाब माना जा रहा है। वहीं, पाक गोलाबारी में शहीद हुए नायक की पहचान बिहार के रोहतास जिला निवासी रवि रंजन कुमार सिंह के रूप में हुई है।

अनुच्छेद-370 हटने के बाद से लगातार हो रही है गोलाबारी
जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से ही पाक सेना में बौखलाहट है। पाक सेना पांच अगस्त से ही नियंत्रण रेखा पर लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रही है। मंगलवार को सेना के एक अधिकारी जम्मू के नगरोटा से सीमा का निरीक्षण करने के पुंछ गए थे। जिप्सी में उनके साथ एक लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के अधिकारी, दो सिपाही और चालक जिप्सी में सवार होकर कृष्णा घाटी सेक्टर के बलनोई क्षेत्र में पहुंचे। इस दौरान पाक की ओर से गोलाबारी शुरू हो गई। पाक सेना ने जिप्सी को निशाना बनाकर मोर्टार दागना शुरू कर दिए।

चालक ने गोलाबारी से बचने के काफी प्रयास किए, लेकिन एक मोर्टार जिप्सी के ऊपर आकर गिरा। इससे जिप्सी के चालक नायक रवि रंजन कुमार, लेफ्टिनेंट कर्नल समेत दो अधिकारी और दो सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गए। मौके पर पहुंचे भारतीय सेना के जवानों ने पांचों घायलों को पास के सैन्य अस्पताल पहुंचाया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद सभी की गंभीर हालत को देखते हुए सेना के चॉपर से कमान अस्पताल ऊधमपुर रेफर करने की तैयारी शुरू की गई। इसी दौरान नायब रवि रंजन कुमार ¨सह शहीद हो गए। इसके बाद अन्य चारों को कमान अस्पताल ऊधमपुर पहुंचाया गया।

पाक सेना ने गांव में भी की गोलीबारी
इस बीच, पाक सेना ने कृष्णा घाटी के डबराज गांव में रिहायशी क्षेत्रों को निशाना बनाया। स्थानीय नागरिक अब्दुल करीम पुत्र फकर दिन अपने घर के पास काम कर रहा था। इसी दौरान एक मोर्टार उसके पास आकर गिरा और वह गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे तुरंत उप जिला अस्पताल मेंढर ले जाया गया, जहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप