नई दिल्‍ली, जेएनएन। कोरोना के खिलाफ जंग में भारत ने अहम उपलब्धि हासिल की है। शुक्रवार को भारत ने इतिहास रचते हुए एक दिन में रिकार्ड एक करोड़ टीके लगाए। इसमें उत्तर प्रदेश ने सबसे ज्यादा करीब 28.62 लाख और कर्नाटक ने 10 लाख से ज्यादा डोज लगाई हैं। अभी तक किसी भी देश ने एक दिन में इतने टीके नहीं लगाए हैं। इस साल दिसंबर तक 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीके लगाने के लक्ष्य की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है। इसके साथ ही देश में कोविड-19 टीकाकरण का दायरा 62,09,43,580 डोज पर पहुंच गया है।

पीएम मोदी ने बड़ी उपलब्धि बताया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे एक बड़ी उपलब्धि बताया है। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा- आज रिकॉर्ड टीकाकरण हुआ! एक दिन में एक करोड़ से ज्‍यादा लोगों का टीकाकरण एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। टीका लगवाने वालों और टीकाकरण अभियान को सफल बनाने वालों को बधाई। 

गृहमंत्री शाह बोले- नए भारत ने दुनिया को दिखाया

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर इस उपलब्धि पर खुशी जताई। उन्‍होंने कहा- एक दिन में एक करोड़ वैक्सीन! यह आंकड़ा नए भारत की दृढ़ इच्छाशक्ति और अपार क्षमता का प्रतिबिंब है। एक दूरदर्शी और कर्मठ नेतृत्व से कैसे एक देश कोरोना से सफल लड़ाई लड़ते हुए पूरे विश्‍व में उदाहरण स्थापित कर सकता है… यह नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व वाले नए भारत ने दुनिया को दिखाया है।

भारतीय स्वास्थ्य प्रणाली के लिए गर्व की बात

वहीं टीकाकरण से संबंधित राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) के कोविड-19 कार्यकारी समूह के अध्यक्ष डा. एनके अरोड़ा ने कहा कि एक ही दिन में COVID-19 रोधी टीकों की एक करोड़ खुराक देना भारतीय स्वास्थ्य प्रणाली के लिए गर्व की बात है। देश में 63 हजार टीकाकरण केंद्रों के साथ हम कोरोना रोधी वैक्सीन की एक करोड़ से अधिक खुराक देने में सक्षम हैं। हम एक ही दिन में स्विट्जरलैंड और स्कैंडिनेवियाई देशों का टीकाकरण कर सकते हैं। इस मुकाम को हासिल करने के लिए निजी क्षेत्र समेत देश भर के सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स, नर्स, डॉक्टर और हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स को बधाई...

एक करोड़ 64 लाख से ज्यादा डोज लगाई गईं

टीकाकरण अभियान को सुचारु ढंग से संचालित करने के लिए बनाए गए प्लेटफार्म को-विन के शुक्रवार रात 10 बजे के आंकड़ों के मुताबिक भारत ने कोरोना रोधी वैक्सीन की एक करोड़ 64 लाख से ज्यादा डोज लगाई हैं। देश में 63,342 केंद्रों पर ये टीके लगाए गए, जिनमें 59,763 सरकारी और 3,579 निजी क्षेत्र के टीका केंद्र शामिल हैं।

16 अगस्त को लगाई गई थीं 92.39 लाख डोज

इससे पहले एक दिन में सबसे ज्यादा डोज (92.39 लाख) लगाने का रिकार्ड भी भारत के पास ही था, जो उसने 16 अगस्त को हासिल किया था। इसके साथ ही देश में अब तक कुल 62.17 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं। इनमें 48.08 करोड़ पहली और 14.08 करोड़ दूसरी डोज शामिल हैं।

यूपी ने बनाया रिकॉर्ड

को-विन के आंकड़ों के मुताबिक शुक्रवार को उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 28.62 लाख डोज लगाई। इससे पहले उत्तर प्रदेश ने तीन अगस्त को करीब 29 लाख डोज लगाई थीं।

शुक्रवार शाम 10:00 बजे तक किस राज्य में कितने टीके

उत्तर प्रदेश 28.62 लाख

कर्नाटक 10.79 लाख

महाराष्ट्र 9.84 लाख

हरियाणा 6.00 लाख

बिहार 4.98 लाख

गुजरात 4.89 लाख

राजस्थान 4.59 लाख

दिल्ली 1.53 लाख

उत्तराखंड 1.04 लाख

पंजाब 0.97 लाख

झारखंड 0.84 लाख

छत्तीसगढ़ 0.64 लाख

हिमाचल 0.54 लाख

(कोविन प्लेटफार्म के आंकड़े)

राज्यों के पास अभी 4.05 करोड़ डोज

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सुबह बताया था कि केंद्र की तरफ से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक कोरोना रोधी वैक्सीन की 59.86 करोड़ से ज्यादा डोज मुहैया कराई गई हैं। इनमें से अभी इनके पास 4.05 करोड़ डोज उपलब्ध हैं। इसके अलावा 17.64 लाख और डोज जल्द ही इन्हें मुहैया करा दी जाएंगी। केंद्र सरकार ने यह भी कहा कि वह पूरे देश में कोविड-19 रोधी टीकाकरण की गति को तेज करने के लिए प्रतिबद्ध है।

देश में कोरोना की स्थिति

24 घंटे में नए मामले 45,905

कुल सक्रिय मामले 3,54,054

24 घंटे में टीकाकरण 1.00 करोड़

कुल टीकाकरण 62.17 करोड़

(आंकड़े कोविड19इंडिया.ओआरजी के के)

शुक्रवार रात 12:00 बजे तक कोरोना की स्थिति

नए मामले 45,908

कुल मामले 3,26,48,237

सक्रिय मामले 3,54,054

मौतें (24 घंटे में) 495

कुल मौतें 4,37,384

सुबह 08:00 बजे तक के आंकड़े

ठीक होने की दर 97.63 फीसद

मृत्यु दर 1.34 फीसद

पाजिटिविटी दर 2.45 फीसद

सा.पाजिटिविटी दर 2.10 फीसद

जांचें (गुरु.) 18,24,931

कुल जांचें (गुरु.) 51,49,54,309

केरल बना हॉटस्‍पाट, देश में 45 हजार से ज्यादा केस

यह उपलब्धि ऐसे वक्‍त में हासिल की गई है जब कोरोना महामारी की स्थिति फिर बिगड़ने लगी है। कोरोना महामारी से केरल में हालात खराब होते जा रहे हैं। राज्य में तीसरे दिन 30 हजार से ज्यादा (32,801) नए मामले मिले हैं और 179 लोगों की मौत हुई है। अगर पूरे देश की बात करें तो 45 हजार से ज्यादा मामले मिले हैं और 495 लोगों की जान भी गई है। केरल के चलते पूरे देश में भी तीन दिनों से 40 हजार से ज्यादा नए मामले मिल रहे हैं, जिसका असर सक्रिय मामलों पर देखने को मिल रहा है। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 3.54 लाख हो गई है।

Edited By: Krishna Bihari Singh