पणजी, पीटीआइ। Cyclonic Depression in Arabian Sea भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (Indian Meteorological Department's, IMD) ने पर्यटकों को सलाह जारी की है कि वे 27 अक्‍टूबर तक गोवा में आने से परहेज करें। मौसम विभाग ने गुरुवार को इस तटीय राज्‍य में रेड अलर्ट जारी करते हुए कहा कि अरब सागर में चक्रवाती तूफान के कारण बने कम दबाव की वजह से गोवा में भारी से ज्‍यादा भारी बारिश हो सकती है।

आईएमडी के गोवा निदेशक डॉ. कृष्णमूर्ति पडगलवार (Dr Krrishnamurty Padgalwar) ने बताया कि पर्यटकों को अगले चार दिन (24 से 27 अक्टूबर तक) राज्य का दौरा नहीं करने की सलाह दी गई है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, गुरुवार को गोवा में 90 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। अधिकारी ने बताया कि राज्य में पहली अक्टूबर से अब तक 144 फीसद मानसूनी बारिश दर्ज की गई है।  

मौसम का अनुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्काइमेट के अनुसार, अरब सागर पर निम्न दबाव क्षेत्र बना हुआ है। यह अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर एवं उत्तर-पूर्व दिशा में आगे बढ़ते हुए धीरे धीरे चक्रवात में बदल जाएगा। 24 अक्टूबर के बाद इसका असर तटवर्ती इलाकों पर इसका असर पड़ेगा। इस बीच, एक निम्न दबाव क्षेत्र आंध्र प्रदेश तट पर भी बना हुआ है जो कल तक उत्तर आंध्र प्रदेश की ओर बढ़ जाएगा। 

इससे पहले पीएम मोदी ने ट्वीट करके हरियाणा और महाराष्‍ट्र के लोगों को भाजपा का साथ देने के लिए धन्‍यवाद दिया। उन्‍होंने कहा, 'आशीर्वाद देने के लिए मैं हरियाणा के लोगों का धन्यवाद करता हूं। हम राज्य की प्रगति के लिए समान उत्साह और समर्पण के साथ काम करना जारी रखेंगे। मैं हरियाणा के भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रयासों की सराहना करता हूं, जिन्होंने हमारे विकास के एजेंडे को विस्तार से लोगों तक पहुंचाया।

स्‍काईमेट के मुताबिक, दक्षिण भारत में अरब सागर के पूर्वी मध्‍य भारत पर बना कम दबाव अब पूर्वी उत्‍तर पूर्वी दिशा में आगे बढ़ेगा। यह 25 अक्‍टूबर की शाम या रात तक फ‍िर से धीरे-धीरे पश्चिम की ओर बढने लगेगा। इसके चलते तटीय कर्नाटक और केरल के कुछ हिस्‍सों में मध्‍यम से भारी बारिश होगी। 

स्काईमेट की मानें तो अगले 24 घंटों में दक्षिण तमिलनाडु के कई हिस्सों में भारी बारिश होगी। चेन्‍नई में मध्‍यम बारिश का अनुमान है। शुक्रवार से देश के दक्षिणी इलाकों में ये गतिविधियां शुरू हो जाएंगी। वहीं कुछ स्‍थानों पर भारी बारिश के साथ हल्की से मध्यम बारिश जारी रहेगी। एजेंसी की मानें तो उत्तरपूर्वी मॉनसून के कारण बीते 24 घंटों के दौरान तमिलनाडु के दक्षिणी जिलों में भारी बारिश हुई है।

Posted By: Krishna Bihari Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस