शिलॉंग, एएनआइ। चीन सीमा के पास सैन्‍य ताकत को बढ़ाने के क्रम में भारतीय वायुसेना ने अपने विजयनगर एडवांस्‍ड लैंडिंग ग्राउंड (ALG) को ऑपरेशनल किया है। आधिकारिक तौर पर इसका उद्घाटन 18 सितंबर को किया जाएगा।

इस एडवांस लैंडिंग ग्राउंड (ALG) के फिर से सक्रिय होने से वायुसेना को पूर्वोत्तर में ऑपरेशनों को अंजाम देने में सुविधा होगी। कुल 8 ALG को पुर्नजीवित किया जा रहा है। वर्ष 2016 से ही ALG मरम्‍मत व सुविधाओं को अपग्रेड न किए जाने की वजह से बंद पड़ा था।

शिलांग विंग कमांडर के रक्षा प्रवक्ता रत्‍नाकर सिंह ने बताया कि 18 सितंबर को फिक्स विंग के विमानों के संचालन के लिए अरुणाचल प्रदेश में पूर्वी एयर कमांडर एयर मार्शल आरडी माथुर और पूर्वी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान संयुक्त रूप से विजयनगर एडवांस लैंडिंग ग्राउंड का उद्घाटन करेंगे। यहां से फिक्स विंग के एयरक्राफ्ट जैसे एएन-32, मिराज-2000, सुखोई-30 एमकेआई, जगुआर और तेजस उड़ान भर सकेंगे। ये अधिकारी वायुसेना के एएन-32 विमान से विजयनगर एएलजी पर उतरेंगे।

विजयनगर ALG में AN-32 पर अधिकारियों की लैंडिंग होगी। राज्‍य के सुदूर कोने में विजयनगर स्‍थित है। यह क्षेत्र इसलिए महत्‍वपूर्ण है क्‍योंकि यह चीन और म्‍यांमार के साथ लगती सीमा के काफी करीब है। पूर्वी एयर कमांडर एयर मार्शल आरडी माथुर और पूर्वी आर्मी कमांडर लेफ्टीनेंट जनरल अनिल चौहान संयुक्‍त रूप से 18 सितंबर को विजयनगर Vijaynagar ALG का उद्घाटन करेंगे।

यह भी पढ़ें: भारत-चीन सीमा के पास तैनात होगीं चिनूक और हॉवित्जर तोपें, जानिए क्या है वजह ?

यह भी पढ़ें: भारत-चीन सैनिकों के बीच हाथापाई के बाद लद्दाख सीमा पर तनाव

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप