नई दिल्ली। केंद्र सरकार के एक साल पूरा होने पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह आज जम्मू पहुंचे। उन्होंने वहां एक रैली को संबोधित किया। उनके जम्मू पहुंचने पर कोआर्डिनेशन कमेटी के सदस्य और पैंथर्स पार्टी के लोगों ने अपना विरोध जाताया। ये लोग ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एम्स) को जम्मू से कश्मीर में शिफ्ट किए जाने का विरोध कर रहे हैं। पहले से तय इस विरोध को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये हैं। जगह-जगह पुलिस के जवानों के साथ-साथ अर्द्धसैनिक बलों को भी तैनात किया गया है।

रैली को संबोधित करते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने केंद्र सरकार की उपलब्धियों को गिनाया। उन्होंने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था काफी तेजी से बढ़ रही है और पूरी दुनिया भी इस बार को मान रही है। उन्होंन ये भी कहा कि मोदी राज में महंगाई कम हुई है।

तेजी से बढ़ रही भारत की अर्थव्यवस्था

रैली को संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर दुनिया चीन के बाद अगर किसी देश की अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से विकास कर रही है तो वो भारत है। इस बात को पूरी दुनिया बखूबी समझ रही है।

महंगाई में कमी

राजनाथ सिंह ने कहा कि एक साल पहले जब एक साल पहले भाजपा की सरकार केंद्र में आई थी तब देश की जनता महंगाई से त्राहिमाम कर रही थी। लेकिन हमारी सरकार ने तमाम विरोधी हालात के बाद भी महंगाई को काबू में लाने का काम किया।

जनधन योजना की शुरूआत

गृहमंत्री ने प्रधानमंत्री की ओर से शुरू किये गए जनधन योजना का खूब गुनगान किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जी चाहते थे कि देश के सभी परिवारों के पास बैंक खाता हो। कोई भी गरीब ऐसा न हो जिसके पास बैंक खाता न हो। हमने जनवरी में जनधन योजना की शुरूआत की। इस योजना की सफलता ने देश को गरीबों को बैंक से जोड़ा साथ ही देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में भी महत्वपूर्ण योगदान दिया।

कांग्रेस पर हमला

रैली में संबोधन के दौरान राजनाथ सिंह ने कांग्रेस को भी निशाने पर लिया। कोयला खदानों की नीलामी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि अभी तक सिर्फ २७ कोयला खदानों की नीलामी हुई। इस नीलामी से देश के राजकोष में १ लाख ९१ हजार करोड़ रुपए जमा हो गए हैं। उन्होंने कांग्रेस पर हमला करता हुए कहा कि मैं कांग्रेस से पूछना चाहता हूं कि देश में प्राकृतिक संसाधनों और मानव संसाधनों की कोई कमी नहीं थी, फिर देश के ऐसे हालात क्यो थे।

वहीं इससे पहले एम्स को जम्मू से कश्मीर शिफ्ट किए जाने के विरोध में कोआर्डिनेशन कमेटी ने आज जम्मू बंद का आह्वान किया था। बंद के दौरान प्रदर्शनकारी राजनाथ गौ बैक के नारे लगा रहे थे।

पैंथर्स भी संघर्ष में शामिल

जम्मू बंद को पैंथर्स पार्टी का भी समर्थन मिला। पार्टी के नेताओं का कहना है कि जम्मू के अधिकारों के लिए लड़ी जाने वाली किसी भी लड़ाई में वे साथ हैं। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जगह-जगह टायर जलाकर राजनाथ सिंह के आगमन का विरोध किया था।

कांग्रेस ने किया बंद का समर्थन

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने भी जम्मू बंद का समर्थन किया। उन्होंने बार एसोसिएशन की कोआर्डिनेशन कमेटी को समर्थन देते हुए जम्मू में एम्स की मांग को दोहराया। कांग्रेस ने भाजपा और पीडीपी की गठबंधन सरकार को नरम नीतियों से अलगाववादियों और देश विरोधी ताकतों को प्रोत्साहित करने के आरोप लगाया। चुनाव के दौरान किए गए वादों को भूलकर भाजपा ने कुर्सी के आगे घुटने टेक दिए।

बता दें कि यह निर्णय जम्मू कश्मीर हाईकोर्ट बार एसोसिएशन की बैठक के दौरान लिया गया था। बैठक में सर्वसम्मति से इस बात पर भी सहमति बनी थी 27 मई को गृह मंत्री राजनाथ सिंह के जम्मू रैली के दौरान विरोध स्वरूप बंद रखा जाएगा। बता दें कि हाल ही में मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने इस बात की घोषणा की है कि एम्स को जम्मू में नहीं बल्कि क श्मीर में खोला जाएगा।

ये भी पढ़ेंः एम्स की मांग को लेकर आज जम्मू बंद, चक्का जाम

ये भी पढ़ें राजनाथ सिंह आज आएंगे जम्मू

Edited By: anand raj