मुंबई (प्रेट्र)। मुंबई से 30 नॉटिकल मील की दूरी पर एयर ट्रैफिक कंट्रोल से संपर्क टूट जाने के बाद लापता हेलीकॉप्‍टर का मलबा मिल गया है। इसमें दो पायलट समेत सात ओएनजीसी कर्मचारी सवार थे। कोस्‍ट गार्ड ने ट्वीट कर जानकारी दी कि तटरक्षक जहाज द्वारा मलबे को खोजा गया। यहां से चार शव बरामद किए गए हैं।इनमें से एक ओएनजीसी के डीजीएम का है।   

 

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने हादसे के संबंध में रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण से बात की है ताकि बचाव अभियान को तेज किया जा सके। नौसेना ने बताया कि उसने हेलिकॉप्टर की तलाश के लिए अपनी  पनडुब्बी आईएनएस टेग तैनात की है। साथ ही टोही विमान पी8 आई को भी खोज के लिए लगाया गया है। 

इससे पहले आज ओएनजीसी के नार्थ फील्‍ड की ओर जा रहे पवन हंस हेलीकॉप्‍टर का शनिवार को एयर ट्रैफिक कंट्रोल से संपर्क टूट गया था। VT-PWA रजिस्‍ट्रेशन नंबर वाला डॉफिन एन3 ने आज सुबह 10.25 बजे जुहू एयरोड्रम से उड़ान भरी थी जिसे सुबह 11 बजे मुंबई हाई ऑयल रिग पर चॉपर को लैंड होना था। नेवी ने सक्रियता दिखाते हुए लापता हेलीकॉप्‍टर की खोज के लिए दो हेलीकॉप्‍टरों को तुरंत तैनात कर दिया। नेवी ने ट्वीट कर जानकारी दी, एरिया में पहले से पेट्रोलिंग के लिए तैनात किए गए 2X ISVs को लापता हेलिकॉप्‍टर के खोज व राहत कार्य के लिए लगा दिया गया है।

जूहू से शनिवार सुबह 10.20 बजे इस हेलीकॉप्‍टर ने उड़ान भरी थी और इसे 10.50 बजे ओएनजीसी के नॉर्थ फील्‍ड में उतरना था लेकिन यह वहां नहीं पहुंचा। बता दें कि साढ़े दस बजे के बाद से कोई संपर्क स्‍थापित नहीं हो सका है।

दाहानू में 40 स्‍कूली बच्‍चों समेत डूबी नाव

उधर, महाराष्‍ट्र के दाहानू में समुद्र तट से 2 नॉटिकल मील की दूरी पर 40 स्‍कूली बच्‍चों समेत नाव डूब गई। इस घटना में 4 की मौत हो गयी और अब तक 25 बच्‍चों को बचा लिया गया है। राहत कार्य जारी है।

यह भी पढ़ें: पायलट ने दिखाई सूझबूझ, दुर्घटनाग्रस्त होते-होते बचा फड़णवीस का हेलिकॉप्टर

Posted By: Monika Minal