इंदौर, जेएनएन। इंदौर में निजामुद्दीन एक्सप्रेस से 19 लाख रुपये के साथ पकड़े गए हाथरस, उप्र के हींग व्यापारी की अब मध्य प्रदेश के उज्जैन में तलाश है। सीसीटीवी फुटेज, बस व मैजिक चालक से पता चला है कि वह शनिवार सुबह उज्जैन पहुंचा था। उसके कपड़ों पर खून लगा हुआ था। वह उपचार कराने उज्जैन के शासकीय अस्पताल भी गया था। व्यापारी को इंदौर जीआरपी ने शुक्रवार को 19 लाख रुपये के साथ पकड़ा था। उससे आयकर विभाग पूछताछ कर रहा था।

होटल के कमरे में छोड़ गया सामान

इंदौर के छोटी ग्वालटोली थाना टीआई डीबीएस नागर के मुताबिक 40 वर्षीय व्यापारी गौरव आर बंसल शनिवार सुबह होटल नीलम के कमरे से गायब हो गया था। उसका मोबाइल, घड़ी और सामान कमरे में रखा हुआ था।

आयकर विभाग को सौंपा था मामला

19 लाख रुपये का हिसाब न देने पर इंदौर पुलिस ने आयकर विभाग को जांच सौंप दी थी। प्रारंभिक पूछताछ के बाद आयकर विभाग ने उसे छोड़ दिया था और शनिवार दोपहर 12 बजे पेश होने के निर्देश दिए थे। देर रात गौरव होटल आया और कर्मचारी से चाकू मांगा। इसके बाद वह सुबह छह बजे कमरे में सामान छोड़कर चला गया। टीआइ के मुताबिक सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि गौरव सुबह सात बजे पटेल ब्रिज की ओर गया था। वहां खड़े तीन मैजिक वाहन चालकों ने भी इसकी पुष्टि की और बताया कि उसके कपड़े खून से सने थे।

उज्जैन के अस्पताल में मिला दाखिला

पुलिस को एक बस चालक व क्लीनर ने बताया कि उन्होंने गौरव को उज्जैन में छोड़ा था। पुलिस ने उज्जैन के शासकीय अस्पताल का रिकॉर्ड और फुटेज निकाला तो गौरव की एंट्री मिल गई। पुलिस को शक है कि गौरव उज्जैन के किसी होटल में रुका हुआ है। बताया गया है कि गौरव भोपाल में पदस्थ रहे एक पूर्व कमिश्नर का रिश्तेदार है। उन्होंने उज्जैन डीआइजी, एसपी से भी संपर्क किया है।

Posted By: Dhyanendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस