[यशा माथुर]। हॉट गॉसिप किस तरह से भारी पड़ते हैं कोई क्रिकेटर हार्दिक पांड्या से पूछे। करण जौहर के सवालों की फिरकी में वे ऐसे उलझे कि उनके चैट शो 'कॉफी विद करण' में क्या बोल गए उनको खुद भी समझ में नहीं आया। अब वे सबसे माफी मांग रहे हैं और कह रहे हैं कि मैं शो के नेचर के अनुसार भावनाओं में बह गया था लेकिन बीसीसीआइ ने टीम इंडिया के ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या और बल्लेबाज केएल राहुल को महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी करने की वजह से ऑस्ट्रेलिया दौरे से वापस भारत बुला लिया है। अब यह दोनों ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज से बाहर हो गए हैं। जांच पूरी होने तक हार्दिक-राहुल टीम का हिस्सा नहीं बन पाएंगे। यहां तक कि बीसीसीआई के नियम 41 के मुताबिक इन खिलाडिय़ों को किसी भी मैच, इवेंट और फंक्शन में शामिल होने की भी मनाही है। 

न्यूजीलैंड दौरे से भी हुए बाहर
बीसीसीआई ने कहा है कि इस मसले पर जांच की जाएगी और इसके बाद ही इन दोनों के क्रिकेट खेलने पर फैसला लिया जाएगा। ऑस्ट्रेलिया के बाद टीम इंडिया न्यूजीलैंड में सीमित ओवर सीरीज खेलेगी लेकिन अब यह दोनों उस सीरीज में भी टीम इंडिया में शामिल नहीं होंगे। बोर्ड उनके रिप्लेसमेंट के बारे में सोचेगा। इसी बीच टीम इंडिया ने भी उनसे किनारा कर लिया है। विराट कोहली ने दोनों क्रिकेटरों से पल्ला झाड़ लिया है। ऑस्ट्रेलिया में उन्होंने कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम और जिम्मेदार क्रिकेटरों के रूप में हम इस तरह के नजरिये के पक्ष में नहीं हैं यह पूरी तरह से व्यक्तिगत नजरिया है। इनकी टिप्‍पणी का विवाद इतना बढ़ा है कि स्टार नेटवर्क ने 'कॉफी विद करण' के विवादित शो को हटा लिया है।

महिलाओं के विरुद्ध कमेंट करना बन गया फैशन
महिलाओं के विरुद्ध कमेंट ने उन्हें दिन में तारे दिखा दिए हैं। सोशल मीडिया पर भी लोगों ने जमकर लताड़ा और 'सेक्सिस्ट' करार दे दिया। वैसे उन्होंने जो बोला था उसकी सजा अगर उन्‍हें मिलती है तो यह उन लोगों के लिए एक सीख की तरह होगी जो आए दिन महिलाओं पर कमेंट करते हैं और महिलाओं के प्रति अपने मन में गहरे तक बैठे अससम्मान को खुलकर दर्शाते हैं। वैसे देखा जाए तो आजकल महिलाओं के विरुद्ध कमेंट करना फैशन सा हो गया है।

राहुल भी हैं मुश्किल में
राफेल विमान सौदे में कथित गड़बड़ी के आरोपों पर कांग्रेस अध्यक्ष का रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को लेकर दिए गया बयान भी आजकल मीडिया की सुर्खियों में है। उन्हें घेरना था प्रधानमंत्री को लेकिन सशक्त महिला निर्मला सीतारमण पर टिप्पणी कर उन्होंने शब्दों के चयन की कमजोरी को साबित कर दिया। इसके लिए राष्ट्रीय महिला आयोग भी उन्हें नोटिस भेज सकता है। राहुल गांधी ने एक रैली में आरोप लगाया था कि राफेल के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाग रहे हैं और बचाव के लिए संसद में एक महिला को आगे कर दिया, जिसको लेकर महिला आयोग ने सख्त रुख अपनाया है।

श्रीसंत भी आए थे फेर में
अभी हाल ही में समाप्त हुए बिग बॉस 12 के वीकेंड का वार एपिसोड में जब सलमान खान ने उनसे सवाल किया कि मान लीजिए कभी भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम महिला क्रिकेट टीम के खिलाफ मैच खेले। ऐसे में क्या आप उन्हें जीतने दोगे? तो उन्होंने जवाब दिया कि मैं जीतने नहीं दूंगा लेकिन मैं जितनी फास्ट बॉल करता हूं उतनी नहीं करूंगा। वे 50 रन में ऑल आउट हो जाएंगे। इसके अलावा उनकी बॉलिंग भी इतनी फास्ट नहीं होगी तो हम आराम से जीत जाएंगे। भारतीय महिला क्रिकेट टीम पर किए कमेंट्स के कारण श्रीसंत सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए थे।

एफबी वॉल पर होते हैं कमेंट
महिलाएं सोशल मीडिया पर भी निशाना बनती हैं। उनकी वॉल पर कोई कुछ भी कह सकता है। ऐसे कई मामले हर दिन होते हैं। कुछ दिन पहले ही 'वीवो' की महिला इंजीनियर ने अपनी एफबी वॉल पर अश्‍लील कमेंट करने का आरोप अपने सहयोगियों पर लगाया था और एचआर मैनेजर समेत 4 पर केस भी दर्ज हुआ था। मामला ग्रेटर नोएडा का था। महिला इंजीनियर का आरोप था कि आरोपियों ने उन पर साथ में शराब पीने का कई बार दबाव बनाया और जब उन्होंने एचआर मैनेजर से इसकी शिकायत की तो उन्होंने भी उनके चरित्र पर सवाल उठा दिया। जिससे आहत होकर उन्‍होने मामले की शिकायत पुलिस से कर दी। लेकिन इसका कोई ठोस परिणाम सामने नहीं आया।

राजनेता कहां मानने वाले हैं?
नेताओं को जब मीडिया की सुर्खियों में आना होता है तो वे विवादित बयान दे डालते हैं और जब इनमें महिला का जिक्र हाता है तो उन्हें अच्छी-खासी पब्लिसिटी मिल जाती है। नेताओं के फूहड़ बोलों की एक बानगी देखिए। भाजपा सांसद उदित राज ने तो पूरे 'मी टू मूवमेंट' पर ही सवाल उठाते हुए डंके की चोट पर कहा था कि महिलाएं पैसे लेकर आरोप लगाती हैं।

उन्होंने कहा था कि कुछ महिलाएं जान-बूझकर पुरुषों पर ऐसे आरोप लगा रही हैं। लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव ने राजस्थान चुनाव के दौरान तत्कालीन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर बहुत ही फूहड़ तंज कसते हुए कहा था, 'वसुंधरा को आराम दो, बहुत थक गई हैं, बहुत मोटी हो गई हैं, पहले पतली थीं।' महाराष्ट्र सरकार में एक मंत्री हैं, जिन्होंने सलाह दी थी कि शराब के ब्रांड को महिलाओं का नाम दें तो शराब खूब बिकेगी। एक और मंत्री हैं जिन्होंने कहा कि महिलाओं को कार की तरह घर में पार्क करके रखेंगे तो 'रेप' नहीं होंगे। 

Posted By: Sanjay Pokhriyal