नई दिल्ली, एएनआइ। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा शनिवार को आतंकी हमजा बिन लादेन की मौत की पुष्टि किए जाने के बाद भारत की ओर से एक बड़ा बयान आया है। भारत के एक रक्षा विशेषज्ञ ने दावा किया है कि इस बात की संभावना है कि आतंकी ओसामा बिन लादेन का बेटा हमजा पाकिस्तानी सेना के संरक्षण में था और उसे वहां सुरक्षा के तहत रखा जा गया था। भारत के रक्षा विशेषज्ञ एसपी सिन्हा ने इस बात का दावा किया है। रक्षा विशेषज्ञ ने साथ ही कहा है कि उसकी मौत पाकिस्तान के लिए अमेरिका से फायदा उठाने को लेकरबड़ा झटका है।

सिन्हा ने एएनआइ से कहा, 'ऐसी संभावना है कि वह (हमजा बिन लादेन) पाकिस्तान की सेना की  देखरेख में रहा हो। हमजा की मौत पाकिस्तान के लिए अमेरिका का फायदा उठाने को लेकर सबसे बड़ा झटका है।'

सिन्हा ने आगे कहा कि, हमजा की मौत एक स्पष्ट संकेत है कि अमेरिका, पाकिस्तान को बहुत अधिक महत्व नहीं देने वाला है, जो लापरवाही से अमेरिका को पैंतरेबाज़ी करने और लुभाने की कोशिश कर रहा है ताकि वह अमेरिका से अधिक से अधिक फायदा उठा सके।

ट्रंप ने की थी हमजा के मौत की पुष्टि
इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अफगानिस्तान/पाकिस्तान क्षेत्र में हमजा बिन लादेन के मारे जाने की पुष्टि की थी। मीडिया में आई खबरों के करीब डेढ़ महीने बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आतंकी ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा बिन लादेन के मारे जाने की पुष्टि की। ट्रंप ने बताया कि अफगान-पाक सीमा पर अमेरिका के आतंकरोधी अभियान में हमजा मारा गया। खुफिया अधिकारियों के हवाले से जुलाई के आखिरी हफ्ते में मीडिया में हमजा की मौत की खबरें आईं थीं।

ट्रंप ने शनिवार को बताया, 'अल कायदा का प्रमुख आतंकी और ओसामा बिन लादेन का बेटा हमजा बिन लादेन अफगान-पाक क्षेत्र में मारा गया। इससे न केवल अल कायदा के नेतृत्व पर असर पड़ेगा, बल्कि उसकी गतिविधियां भी कमजोर पड़ेंगी।'

भारत के रक्षा विशेषज्ञ ने आगे और जोड़ते हुए कहा, 'ओसामा का बेटा हमजा, अपने पिता के रास्ते पर था। बिन लादेन बेटे की हत्या इस बात का संकेत है कि अब अमेरिकी अब बेपरवाग नहीं है और वो अब तालिबान की भूमिका को लेकर बेहद गंभीर है। अमेरिका, पाकिस्तान की पहल को बहुत अधिक महत्व नहीं देने वाला है क्योंकि उसे पता है कि पाकिस्तान उसे इसके नेटवर्क में फंसाने की कोशिश कर रहा है।'

सिन्हा ने साथ ही कहा कि दुनिया के शक्तिशाली देशों को आतंकी हाफिज सईद, सैयद सलाहुद्दीन और मसूद अजहर जैसे अन्य आतंकवादियों को भी निशाना बनाना चाहिए। उन्होंने कहा, 'समय आ गया है जब दुनिया के प्रमुख देशों को यह पहचानना होगा कि वैश्विक आतंकवादी कौन हैं -जैसे हाफिज सईद, सैयद सलाहुद्दीन, मसूद अजहर। उन्हें भी निशाना बनाना होगा यदि दुनिया में शांति स्थापित करनी है।'

यह भी पढ़ें: मारा गया दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी का बेटा हमजा, ट्रंप ने की मौत की पुष्टि

इसे भी पढ़ें: अपने जवानों के शवों से भी पाक करता है भेदभाव, डेढ़ माह बाद भी LoC पर पड़े हैं लावारिस शव

इसे भी पढ़ें: कश्मीर पर रोते-रोते पाकिस्तानी आपस में भिड़े, सिंधुदेश के बयान पर कुरैशी ने बिलावल को कोसा