गुवाहाटी। असम पुलिस ने गुवाहाटी के पल्टन बाजार इलाके में ग्रेनेड हमले के संदर्भ में 50 लोगों को हिरासत में लिया है। उधर, उल्फा ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है, लेकिन पुलिस को अभी भी इस घटना के पीछे किसी भी आतंकवादी संगठन के हाथ होने की पुष्टि करना बाकी है।

गौरतलब है कि इस घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। उल्फा के वार्ता विरोधी धड़े ने रविवार को मीडिया को ई-मेल से भेजे संदेश में तिनसुकिया के डूमडूमा इलाके में गुरुवार को एवं पल्टन बाजार में शनिवार शाम को हुए विस्फोट की जिम्मेदारी ली।

गुवाहाटी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद प्रकाश तिवारी ने हालांकि कहा कि उन्हें इन विस्फोटों के पीछे किसी विशेष संगठन का हाथ होने का सबूत नहीं मिला है और इसकी जांच चल रही है। उन्होंने बताया कि आरोपियों की धरपकड़ के क्रम में 50 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

डूमडूमा विस्फोट में तीन पुलिसकर्मियों समेत 14 लोग घायल हो गए थे जबकि पल्टन बाजार विस्फोट में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल [सीआरपीएफ] के जवान की मौत हो गई थी और 12 अन्य घायल हो गए थे। इस बीच धुबरी में शनिवार शाम को लगाया गया क‌र्फ्यू रविवार को भी जारी रहा।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस