नई दिल्ली [जागरण स्पेशल]। वैसे तो गूगल को हर बार सही जानकारी देने के लिए ही जाना जाता है मगर एक ताजा मामला ऐसा सामने आया है जिसमें गूगल मैप ने जो जानकारी दी, उस पर विश्वास करते हुए वाहन चालक उस रास्ते पर चले और आगे जाकर लंबे जाम में फंस गए। यहां वाहनों की लंबी लाइन लग गई। यदि एक दो वाहन चालक इस लाइन में होते तो भी ठीक था मगर इनकी संख्या सैकड़ों में पहुंच गई। एक के बाद एक वाहन चालक यहां पहुंचते रहे और उनकी लाइन लंबी होती गई।

दरअसल हुआ यूं कि अमेरिका के राज्य कोलोराडो में डेनवर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की ओर जाने वाली सड़क पर एक दुर्घटना के बाद जाम लग गया था। ऐसे में वहां पहुंचने वाले कार ड्राइवरों ने वैकल्पिक रास्ता बताने के लिए गूगल मैप का इस्तेमाल किया। लगभग 100 कार चालकों ने वैकल्पिक रास्ते के लिए गूगल मैप का सहारा लिया था और ये सभी बारी-बारी से उस रास्ते पर चलते चले गए। आगे जाने के बाद ये सभी फंसते गए। इस रास्ते पर वाहन न तो आगे बढ़ पा रहे थे ना ही आसानी से पीछे लौट पा रहे थे।

हवाई अड्डे की ओर जाने वाले सीधे रास्ते पर दुर्घटना के कारण रास्ता तय करने में लगने वाला वक्त 43 मिनट था। गूगल मैप के मुताबिक वैकल्पिक रास्ते से 23 मिनट लगने थे। वैकल्पिक रास्ते पर फंसने के बाद वाहन चालकों ने इसकी शिकायत की, उसके बाद गूगल की ओर से इस संबंध में जवाब भी दिया गया।

बताया गया कि हम मार्गो को चिह्न्ति करते समय कई कारकों को ध्यान में रखते हैं, जिसमें सड़क का आकार और सफाई जैसी तमाम चीजें शामिल होती है। हम हमेशा सर्वश्रेष्ठ रास्ता बताने के लिए प्रयासरत रहते हैं, लेकिन मौसम जैसी अप्रत्याशित परिस्थितियों के कारण इस तरह की समस्याएं पैदा हो जाती हैं। जिस रास्ते पर वाहन चालक फंस गए वहां पर अचानक से काफी कीचड़ हो गया जिसके कारण जाम के हालात बने।

Posted By: Vinay Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप