शिवपुरी(जेएनएन)। मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में खनियाधाना नगर की शान माने जाने वाले राजमहल स्थित भगवान श्रीराम मंदिर के शिखर से स्वर्ण कलश चोरी हो गया। कलश की कीमत 14 से 15 करोड़ बताई जा रही है।

पांच साल पहले भी इसी कलश को चुराने की कोशिश की गई थी लेकिन तब कामयाबी नहीं मिली। खनियाधाना और भोती के जैन मन्दिर से सदियों पुरानी जैन प्रतिमाएं भी चोरी होती रही हैं। आज की इस सनसनीखेज चोरी से सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए हैं।

रियासतकालीन श्रीराम मंदिर राजमहल में बना हुआ है और मंदिर का कलश भी काफी पुराना है। ऐतिहासिक धरोहर होने से इसका महत्व और कीमत काफी ज्यादा हो सकती है।

राजमहल के अंदर स्थित इस मंदिर की सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं है तीन चार साल पहले बारिश की बजह से बाहर की दीवार गिर गई थी जो की आज तक नहीं बनाई गई है। शहर के बीच बस्ती मे यह मंदिर है। खनियाधाना एक स्वतंत्र रियासत थी। यहाँ कई प्राचीन मंदिर है लेकिन आज तक किसी पुरातत्व अधिकार ने यहा की सुध नही ली कोई भी मंदिर पुरातत्व विभाग के संरक्षण मे नहीं है।

मंदिर कलश चोरी के विरोध में आज बाजार बंद का निर्णय लिया गया है।लोगों के बढ़ते आक्रोश के बीच डॉग स्क्वैड एंव फिंगर प्रिंट एक्पर्ट मौके पर पहुंच गए हैं। एसडीओपी ने इस मामले में लोगों से 24 घंटे का समय मांगा है।

बताया जा रहा है की करीब 1.5 महीने पहले मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए नांदेड़ ( महाराष्ट्र) के कारीगर आए थे। मंदिर 300 साल पुराना है। इस मंदिर के कलश का डिजाइन ओरछा के मंदिर का कलश दोनों एक समान थे। 

Posted By: Srishti Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस