पणजी, एएनआइ: गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर पणजी से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। उत्पल पर्रिकर जनता के घर-घर जाकर वोट मांग रहे हैं। इसी बीच पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे ने चुनाव लड़ने पर बड़ा बयान दिया। उन्होंने एएनआइ से बातचीत में कहा है कि, परिस्थितियां ऐसी बनी, जिस वजह से उन्हें पणजी से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ने का फैसला लेने के लिए मजबूर होना पड़ा। उत्पल ने कहा कि, मैं पणजी में हर व्यक्ति से मिलने की कोशिश करूंगा, और मैं, लोगों को एक अच्छा विकल्प देना चाहता हूं।

दरअसल, पूर्व सीएम दिवंगत मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर ने पणजी विधानसभा सीट से पर्चा भर दिया है। उत्पल पणजी से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। गुरुवार को पर्चा दाखिल करने से पहले उन्होंने पणजी में महालक्ष्मी मंदिर में पूजा अर्चना की। इस मौके पर उन्होंने कहा, 'मैं यहां भगवान का आशीर्वाद लेने आया हूं, मुझे आशा और पूरा विश्वास है कि पणजी के लोग मुझे अपना आशीर्वाद देंगे। मेरे पिताजी ने जो काम यहां किए थे, वही काम मुझे यहां के लोगों के लिए करने हैं। पणजी की जनता यहां के भविष्य के लिए वोट करेगी।

गौरतलब है कि उत्पल पर्रिकर ने पणजी से टिकट ना मिलने पर भाजपा से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ने का एलान किया था। हालांकि, उत्पल पर्रिकर के बगावती रुख के बाद भाजपा ने उन्हें मनाने की कोशिशी भी की। भाजपा महासचिव सी.टी. रवि ने उनसे अपने फैसले पर पुनर्विचार करने और अपने पिता के सपने को पूरा करने का अनुरोध किया था।

बता दें कि बीजेपी ने उत्पल पर्रिकर को दो सीटों पर चुनाव लड़ने की पेशकश की थी। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने इस संबंध में कहा था कि पार्टी के राष्ट्रीय नेता उत्पल के संपर्क में हैं।

Edited By: Mohd Faisal