दिल्ली, एएनआइ। गणतंत्र दिवस से पहले राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल का आयोजन किया गया। परेड का आगाज सुबह 10:20 बजे विजय चौक से हुआ, इसके बाद परेड राजपथ व इंडिया गेट से होते हुए नेशनल स्टेडियम तक गई। इस दौरान आस-पास की सड़कों से ट्रैफिक को डायवर्ट किया गया। साथ ही दिल्ली पुलिस ने फुल ड्रेस रिहर्सल को देखते हुए ट्रैफिक एडवाइजरी भी जारी की, आदेश के अनुसार, दिल्ली ट्रैफिक ने लोगों को सलाह दी है कि फुल ड्रेस रिहर्सल वाले दिन राजपथ पर आने से बचें। इसके अलावा केन्द्रीय सचिवालय और उद्योग भवन मेट्रो स्टेशनों में प्रवेश व निकास बंद रहेगा।

जानकारी के अनुसार, पुलिस ने फुल ड्रेस रिहर्सल को देखते हुए इससे पहले शहर में ड्रोन के इस्तेमाल पर रोक समेत जनता के लिए विस्तृत गाइडलाइन जारी की थी। परेड के मार्ग पर यातायात की आवाजाही को प्रतिबंधित किया गया है। पुलिस की एडवाइजरी के मुताबिक, 23 जनवरी की फुल ड्रेस रिहर्सल को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने 22 जनवरी को रात 11 बजे के बाद विजय चौक, रफी मार्ग, जनपथ आदि मार्गों को बंद कर दिया था। 23 जनवरी को सुबह 9.15 बजे से लेकर परेड खत्म होने ये मार्ग पूरी तरह बंद करने का आदेश जारी किया गया था।

बता दें कि, पिछले साल की तरह इस साल भी कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए परेड नैशनल स्टेडियम पर ही खत्म कर दी जाएगी, और मार्चिंग दस्ते लाल किले तक नहीं जाएंगे। केवल झांकियों को ही लाल किले के बाहर स्थित सुभाष मैदान तक ले जाया जाएगा। इससे पहले परेड रूट 8.3 किलोमीटर होता था, वो अब घटकर 3.3 किलोमीटर ही रह गया है।

कोरोना काल से पहले सवा लाख लोग परेड देखते थे, जिन्हें कोविड के चलते साल 2021 में घटाकर 25 हजार कर दिया गया था। इस बार भी दर्शकों की संख्या कम ही होगी। जो लोग गणतंत्र दिवस परेड देखने आएंगे उनका टेम्प्रेचर चेक किया जाएगा। साथ ही गणतंत्र दिवस में मास्क पहनना भी रूरी होगा। और जगह जगह सैनिटाइजर का भी इंतजाम भी किया जाएगा। 

Edited By: Ashisha Rajput