नई दिल्ली, प्रेट्र।  विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला (foreign secretary Harshvardhan Shringla) ने  गुरुवार को ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को संबोधित किया और कहा कि व्यापार को आगे बढ़ाने में  राज्य सरकार का सहयोग जरूरी बताया। उन्होंने  कहा  कि छात्रों और पेशेवरों को विदेशों में उनके शैक्षणिक संस्थानों तथा कंपनियों की यात्रा को आसान बनाने के लिए भारत अन्य देशों के साथ तत्परता से बातचीत कर रहा है।  विदेश सचिव ने कहा कि महामारी का सामना पूरा विश्व कर रहा है और इसने जीवन के सभी क्षेत्रों को प्रभावित किया है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि श्रृंगला और मुख्यमंत्री पटनायक ने टूरिज्म, टेक और निवेश पर बात की। विदेश सचिव ने कलिंग इंस्टीट्यूट आफ इंडस्टि्रयल टेक्नोलॉजी (केआइआइटी), भुवनेश्र्वर में अपनी टिप्पणी में कोरोना से निपटने में सरकार की सभी प्रयासों में राजनयिक प्रयासों के बारे में चर्चा की। उन्होंने कहा कि पिछले साल जनवरी में शुरूआती चरण के दौरान जब चीन में लाकडाउन था, तब वुहान से भारतीय नागरिकों को लाने के लिए विशेष उड़ानें परिचालित की गई। श्रृंगला ने कहा कि अब तक 25 लाख से अधिक लोगों को स्वदेश वापस लाया गया है।

कोरोना टीकाकरण के बारे में उन्होंने कहा कि भारत वैश्विक टीका निर्माण का केंद्र बन गया है। उन्होंने कहा कि हम अपने नागरिकों को एक अरब खुराक देने के ऐतिहासिक लक्ष्य को हासिल करने के करीब पहुंच गये हैं। इस अवसर पर जापानी राजदूत सुजुकी सतोशी भी मौजूद थे।

Edited By: Monika Minal