नई दिल्ली, जेएनएन। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने एक बार फिर वाहन चालकों को मुफ्त फास्टैग (Free FASTag) देने की शुरूआत की है। एनएचएआई ने टोल प्लाजा को जाम मुक्त करने और इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन बढ़ाने के लिए दिसंबर 2019 में अपने सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य कर दिया था। उम्मीद की जा रही थी कि फास्टैग अनिवार्य होने के बाद टोल प्लाजा पर जाम से मुक्ति मिलेगा, लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है।

राष्ट्रीय राजमार्गों के टोल प्लाजा पर अब भी वाहनों की लंबी कतारें देखी जा सकती हैं। तमाम केंद्रों से ऐसी खबरें आ रहीं हैं कि छोटे वाहन चालक, विशेषकर कार चालकों में फास्टैग के प्रति उदासीनता देखी जा रही है। कुछ शहरों में 50 फीसद कार मालिकों ने भी फास्टैग नहीं लिया है। इसकी वजह से टोल प्लाजा के फास्टैग लेन में भी वाहनों की लंबी कतारें देखी जा सकती हैं।

दिसंबर 2019 से अनिवार्य हो चुका है फास्टैग

मालूम हो कि इससे पहले भी राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने 22 नवंबर 2019 से 15 दिसंबर 2019 के बीच वाहन चालकों को मुफ्त फास्टैग वितरित करने का अभियान चलाया था। एनएचएआई के अलावा तमाम बैंक और ई-वॉलेट कंपनियों की तरफ से भी उस वक्त मुफ्त फास्टैग बांटने का अभियान चलाया गया था। इसके बाद 16 दिसंबर 2019 से NHAI के सभी टोल प्लाजा पर फास्टैग अनिवार्य कर दिया गया था।

जुर्माने सहित दोगुना टोल वसूलने का है प्रावधान

फास्टैग न लगाने वाले वाहन चालकों से जुर्माना वसूलने का भी प्रावधान रखा गया था। एनएचएआई ने उस वक्त घोषणा की थी कि टोल प्लाजा की ज्यादातर लेन फास्टैग होगी। ऐसे में अगर बिना फास्टैग वाला कोई वाहन उस लेन में आता है तो उससे जुर्माना सहित दोगुना टोल टैक्स वसूला जाएगा। इसके बाद भी टोल प्लाजा पर लग रही वाहनों की लंबी कतारें, एनएचएआई के लिए चिंता का सबब बन गई हैं। एनएचएआई की तरफ से वाहन चालकों को फास्टैग प्रयोग करने के प्रति लगातार जागरूक भी किया जा रहा है।

इसलिए टोल प्लाजा पर खत्म नहीं हो रहा जाम

ब्रजभूमि एक्सप्रेस-वे के परियोजना निदेशक, सूर्य प्रताप सिंह के बताते हैं सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद अब तक केवल 50 फीसद छोटे वाहनों (विशेषतौर पर कार) पर ही फास्टैग लग सका है। बड़े वाहन मालिकों ने जुर्माने के डर और जाम से बचने के लिए इसका लगभग शत-प्रतिशत प्रयोग शुरू कर दिया है। छोटे वाहन चालकों द्वारा फास्टैग में रुचि न लेने की वजह से टोल प्लाजा पर जाम की स्थिति जस की तस बनी हुई है। आलम ये है कि जिन लोगों ने पूर्व में मुफ्त फास्टैग लिए थे, वो भी अब उन्हें रिचार्ज नहीं करा रहे हैं।

अगले 15 दिन मुफ्त मिलेगा फास्टैग

एनएचएआई द्वारा जारी नए दिशा निर्देश में बताया गया है कि कोई भी वाहन चालक गाड़ी का पंजीकरण प्रमाण पत्र (आरसी) और अपनी एक फोटोयुक्त पहचान पत्र ले जाकर तुरंत मुफ्त फास्टैग प्राप्त कर सकता है। अगले 15 दिनों तक मुफ्त फास्टैग एनएचएआई के सभी टोल प्लाजा पर मिलेंगे। एनएचएआई ने 15 फरवरी 2020 से 29 फरवरी 2020 तक मुफ्त फास्टैग वितरित करने की घोषणा की है। इस दौरान वाहन चालकों को फास्टैग लगवाने के लिए 100 रुपये का शुल्क नहीं देना होगा। फास्टैग लगने के बाद वाहन चालकों को टोल प्लाजा पर टैक्स देने के लिए रुकना नहीं पड़ेगा। वाहन चालक बिना रुके ऑटोमैटिक तरीके से टोल टैक्स का भुगतान कर निकल सकेंगे। इससे टोल प्लाजा पर लगने वाले जाम से भी वाहन चालकों को मुक्ति मिलेगी।

यह भी पढ़ें -

अब आपकी गाड़ी के लिए फ्री में मिलेगा FASTags, बस अपने साथ ले जाएं ये कागज

Posted By: Amit Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस