कन्नूर, पीटीआइ। माकपा के एक कार्यकर्ता की हत्या में संघ और भाजपा से जुड़े पांच लोगों को बुधवार को उम्रकैद की सुनाई गई। अदालत ने संघ के एक राज्य स्तरीय पदाधिकारी समेत नौ अन्य को बरी कर दिया। अदालत ने दोषियों पर पांच-पांच हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है।

माकपा के केवी याकूब (26) पर 13 जून 2006 को तब हमला किया गया था जब वह अपने दोस्त के घर पर था। आरोपितों ने पहले उस पर बम से हमला किया और जब याकूब जान बचाकर भागने लगा तो उसका पीछा कर हत्या कर दी।

अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश बीएल बैजू ने शंकरन, उसके भाई मनोहरन, विजेश, प्रकाशन और काव्येश को इस मामले में दोषी ठहराते हुए सजा सुनाई है। जिन्हें सजा सुनाई गई है, वे सभी संघ और भाजपा के स्थानीय स्तर के पदाधिकारी हैं। अदालत ने संघ से जुड़े उत्तर केरल के एक बड़े पदाधिकारी वाल्सन थिलेनकेरी सहित नौ लोगों को बरी कर दिया है। सुनवाई के दौरान 23 लोगों की कोर्ट में गवाही हुई।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Dhyanendra Singh