जागरण न्यूज नेटवर्क, नई दिल्ली। एहतियाती कदम उठाए जाने के बावजूद कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। कोलकाता में भर्ती थाईलैंड की युवती की मौत हो गई। आशंका है कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित थी। हवाई अड्डों पर यात्रियों की जांच के लिए टीमें गठित कर दी गई हैं और अस्पतालों में विशेष प्रबंध किए गए हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में राममनोहर लोहिया अस्पताल (आरएमएल) में भर्ती तीन संदिग्ध मरीजों के खून के नमूने जांच के लिए पुणे स्थित राष्ट्रीय वायरोलॉजी संस्थान भेज दिया गया है। अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मीनाक्षी भारद्वाज के मुताबिक सोमवार को भर्ती इन मरीजों में एक गाजियाबाद जबकि दो दिल्ली के निवासी हैं। तीनों चीन से आए थे। थाईलैंड निवासी युवती को तीन दिन पहले कोलकाता के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां सोमवार को उसकी मौत हो गई। हालांकि उसकी मौत कोरोना वायरस से ही हुई है या नहीं, इसकी जांच की जा रही है।

राजधानी दिल्ली में तीन संदिग्ध मरीज भर्ती

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में राममनोहर लोहिया अस्पताल (आरएमएल) में भर्ती तीन संदिग्ध मरीजों के खून के नमूने जांच के लिए पुणे स्थित राष्ट्रीय वायरोलॉजी संस्थान भेज दिया गया है। अस्पताल की चिकित्सा अधीक्षक डॉ. मीनाक्षी भारद्वाज के मुताबिक सोमवार को भर्ती इन मरीजों में एक गाजियाबाद जबकि दो दिल्ली के निवासी हैं। तीनों चीन से आए थे।

यूपी के सभी जिलों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए

उत्तर प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में दस बेड के आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं। लखनऊ, वाराणसी समेत सभी एयरपोर्ट पर जांच टीम के साथ ही हेल्पडेस्क की तैनाती कर दी गई। महराजगंज में चीन से लौटे एक मेडिकल छात्र की जांच कर उसकी रिपोर्ट शासन को भेजी गई है।

हरियाणा में 5 मरीजों की हुई पहचान

हरियाणा के गुरुग्राम में दो तथा फरीदाबाद, नूंह और पानीपत में एक-एक संदिग्ध रोगी सामने आए हैं। ये सभी पिछले सप्ताह चीन से लौटे थे। इनमें से दो में कोरोना वायरस होने के संकेत मिल रहे हैं। ऐहतियात के तौर पर सभी को संबंधित जिलों के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है।

पंजाब में विशेष सतर्कता

पंजाब में स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि मोहाली के फोर्टिस अस्पताल और चंडीगढ़ पीजीआइ में एक-एक संदिग्ध मरीज को निगरानी में रखा गया है। राज्य के सभी जिला अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बना दिए गए हैं। अमृतसर व मोहाली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर थर्मल सेंसर लगा दिए गए हैं और इसके द्वारा जांच शुरू कर दी गई है। होशियारपुर में चीन होते हुए कनाडा से चार दिन पहले आई महिला को बुखार व खांसी की शिकायत है। उसे निगरानी में रखा गया है। श्रीनगर के इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर रैपिड रेस्पांस टीम तैनात की गई है, जो हर आने जाने वाले पर निगाह रखेगी। वहीं जम्मू में भी सभी जिलों में अलर्ट किया गया है।

 चीन से लौटे 18 यात्रियों के कोरोना से संक्रमित होने की आशंका

छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस की संदिग्ध मरीज मिली है। राज्य की स्वास्थ्य सचिव निहारिका बारिक ने बताया कि चीन से लौटी महिला को एहतियातन निगरानी में रखा गया है। राजस्थान में चीन से लौटे 18 यात्रियों के कोरोना से संक्रमित होने की आशंका के बीच एक संदिग्ध को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जयपुर एयरपोर्ट पर थर्मल स्कैनर के इस्तेमाल के भी निर्देश दिए हैं। बंगाल, बिहार, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर और उत्तराखंड में अलर्ट जारी कर दिया गया है।

केरल में चीन से लौटे हैं 633 लोग 

दक्षिणी राज्य केरल में हाल के दिनों में चीन से 633 लोग लौटे हैं। सबसे ज्यादा यहीं के सात लोगों में कोरोना वायरस से मिलते-जुलते लक्षण पाए जाने के बाद अस्पतालों मे भर्ती कराया गया है। हालांकि, किसी में भी कोरोना वायरस की पुष्टि नहीं हुई है। केंद्र की तरफ से गई तीन सदस्यीय टीम ने भी कहा है कि राज्य में कोरोना वायरस का कोई मामला नहीं मिला है। केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने कहा कि अभी सबकुछ नियंत्रण में है, लेकिन जब तक विश्व स्वास्थ्य संगठन हालात को सुरक्षित नहीं घोषित कर देता है, हमें सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने चीन या प्रभावित देशों से लौटने वाले लोगों से स्वास्थ्य विभाग से संपर्क करने का आग्रह किया है। मुख्यमंत्री पी. विजयन ने चीन से भारतीयों को निकालने के केंद्र सरकार के फैसले का स्वागत किया है।

केरल के 34 बच्चे वुहान में फंसे

केरल के लगभग 34 बच्चे चीन के वुहान शहर में फंसे हुए हैं। इनके माता-पिता उनको लेकर चिंतित हैं। हालांकि, कोई छात्र इस वायरस से पीड़ित नहीं है। इससे अभिभावकों में संतोष तो है, लेकिन डर भी बना हुआ है।

तमिलनाडु में चीन से लौटे आठ लोगों पर नजर

तमिलनाडु में भी हाल में चीन से लौटे आठ लोगों को निगरानी में रखा गया है। इन्हें भी राज्य के विभिन्न अस्पतालों में बने अलग वार्ड में रखा गया है। इनकी जांच पड़ताल की जा रही है।  महाराष्ट्र में भी चीन से लौटे छह लोगों को अस्पतालों मे भर्ती कराया गया है। कोरोना वायरस से मिलते-जुलते लक्षण वाले एक व्यक्ति को सोमवार को पुणे के नायडू अस्पताल में भर्ती कराया गया। इससे पहले मुंबई समेत अन्य हिस्से में पांच संदिग्ध लोगों को अस्पतालों में रखा गया है। अभी तक कोरोना की पुष्टि नहीं हुई है।

चीन में गुजरात के 100 छात्र

गुजरात के लगभग सौ छात्र भी चीन में हैं और सभी वापस लौटना चाहते हैं। मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा है कि एक-दो दिन के भीतर छात्रों को वापस लाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि किसी छात्र के कोरोना से पीड़ित होने की खबर नहीं है।

गोवा में पणजी स्थित मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बुखार, खांसी और सांस की समस्या से पीड़ित एक व्यक्ति को भर्ती किया गया है। यह व्यक्ति हाल ही में चीन से लौटा था। उसके खून के नमूने की जांच की जा रही है। अभी कोरोना से पी़ि़डत होने की पुष्टि नहीं हुई है।

त्रिपुरा में हाई अलर्ट घोषित

पूर्वोत्तर के राज्यों में भी कोरोना वायरस को लेकर दहशत देखी जा रही है। त्रिपुरा ने अपने यहां हाई अलर्ट जारी कर दिया है। खासकर भारत-बांग्लादेश सीमा पर आने-जाने वाले लोगों की जांच की जा रही है।

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस