1- ताजा खबरः CWG 2018 में साइना ने सिंधु को हराकर गोल्ड मेडल पर किया कब्जा, सिल्वर भी भारत के नाम

गोल्ड कोस्ट। 21वें कॉमवेल्थ गेम्स के बैडमिंटन के महिला सिंगल्स इवेंट में गोल्ड मेडल और सिल्वर मेडल दोनों पर भारत ने कब्जा कर लिया है। सायना नेहवाल ने बैडमिंटन के महिला सिंगल्स फाइनल में पी.वी. सिंधु को हराकर स्वर्ण पदक जीता लिया है, वहीं पी. वी. सिंधु को सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा। गोल्ड मेडल के लिए आखिरी मुकाबला भारत की सायना और पी.वी. सिंधु के बीच खेला गया। सायना ने सिंधु को 21-18, 23-21 से हराकर गोल्ड अपने नाम किया। सायना इसके साथ राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं। दुनिया के नंबर एक पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत ने सिल्वर मेडल जीता। सायना और सिंधु के बीच एक-एक पॉइंट के लिए जबरदस्त टक्कर देखने को मिली। सायना ने पहला सेट 21-18 से जीती, वहीं दूसरे सेट में सिंधु ने जोरदार वापसी करते हुए सायना पर शुरुआत में बढ़त बनाई। लेकिन सायना ने आखिरी मौके पर फिर से वापसी की फिर गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

2-मध्यप्रदेश में कटनी-चोपन पैसेंजर ट्रेन के 5 डिब्बे पटरी से उतरे, 22 यात्री घायल

कटनी। मध्य प्रदेश के कटनी जिले से चोपन की ओर जाने वाली नाइट पैसेंजर ट्रेन दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसा शनिवार रात जिले के सलहना और पिपरिया कला स्टेशन के बीच हुआ। ट्रेन की 5 बोगियां पटरी से उतर गई। घटना में 22 यात्रियों के घायल होने की जानकारी मिली है, इनमें से सात यात्रियों को कटनी व बरही के अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। वहीं मौके पर पहुंचे रेलवे के डॉक्टरों ने मामूली रूप से घायल 15 यात्रियों का इलाज किया। हालांकि घायलों की सही संख्या के बारे में अधिकृत तौर पर रेलवे कुछ नहीं कह रहा। रेलवे के मुताबिक कटनी-चोपन पैसेंजर कटनी से रवाना होकर 30 किलोमीटर दूर पहुंची थी कि रात 10 बजे जोरदार आवाज के साथ ट्रेन के पांच डिब्बे पटरी से उतर गए। बोगी के डिब्बे उतरने से यात्रियों में दहशत फैल गई और यात्री बोगी छोड़कर बाहर निकल आए।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

3-चुनाव एक साथ कराए जाने पर जल्द लिया जा सकता है बड़ा फैसला

नई दिल्ली। केंद्र सरकार चुनाव आयोग से यह पूछने वाली है कि क्या अगले साल की शुरुआत में ही लोकसभा और विधानसभाओं के चुनावों को एक साथ दो चरणों में कराया जा सकता है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार मोदी सरकार कानून आयोग के रिपोर्ट सौंपने के बाद इस मुद्दे पर चुनाव आयोग से उसके विचार मांगेगी। कानून आयोग इस संबंध में अपनी रिपोर्ट इस महीने के आखिर में कानून मंत्रालय को सौंपने वाला है। समझा जाता है कि केंद्र सरकार वर्ष 2019 और 2024 में लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराना चाहती है। सरकार चुनाव आयोग को इन दोनों चुनावों को दो चरणों में कराने का सुझाव दे सकती है। इसीतरह की एक रिपोर्ट सरकार के थिंक-टैंक नीति आयोग ने भी अपनी सिफारिशों में दी है। नीति आयोग ने भी दोनों चुनाव दो चरणों में एक साथ कराने की सिफारिश की है।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

4-राज्यसभा के नए कार्यकाल की शपथ आज लेंगे अरुण जेटली

नई दिल्ली । केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली आज राज्यसभा के छह साल के नए कार्यकाल के लिए शपथ लेंगे। 65 वर्षीय जेटली हाल ही में उत्तर प्रदेश से निर्वाचित हुए थे। किडनी के इलाज के चलते वह रविवार को एक विशेष समारोह में पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। जबकि राज्यसभा के अन्य निर्वाचित सदस्य पहले ही एक भव्य समारोह में शपथ ग्रहण कर चुके हैं। सूत्रों का कहना है कि यह समारोह राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडू के चैम्बर में सुबह 11 बजे होगा। जेटली को विगत तीन अप्रैल को एक बार फिर उच्च सदन में विपक्ष का नेता चुना गया था।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

5-PDP विधायकों ने कहा, महबूबा उचित समझें तो गिरा सकती हैं सरकार

श्रीनगर। पीडीपी और भाजपा की गठबंधन सरकार के टूटने का खतरा शनिवार को टल गया। पीडीपी के वरिष्ठ नेता और मंत्री नईम अख्तर ने दावा किया कि दोनों दलों में मतभेद खत्म हो चुके हैं। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की अध्यक्षता में शनिवार को श्रीनगर में उनके आवास पर हुई पीडीपी की कार्यकारिणी की बैठक हंगामेदार रही। पीडीपी के विधायकों ने भाजपा के दो मंत्रियों से इस्तीफे लेने पर मुख्यमंत्री का समर्थन किया व कहा कि अगर वह उचित समझें तो सरकार गिरा सकती हैं। बैठक में पीडीपी विधायकों ने कहा कि अगर वह (महबूबा) भाजपा के मंत्रियों से इस्तीफे नहीं लेतीं तो आज यहां बैठक में अपनी ही पार्टी के विधायकों के इस्तीफे संभाल रहीं होतीं।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

6-रूसी चैनल ने लोगों को दी चेतावनी, कहा-तीसरे विश्व युद्ध के लिए तैयार रहो

मॉस्को। सीरिया में जारी वर्तमान संकट के मद्देनजर रूस के सरकारी टीवी ने दर्शकों से तीसरे विश्व युद्ध के लिए तैयार रहने को कहा है। एक विशेषज्ञ अलेक्जेंडर गोल्ट्स ने कहा कि एक साल पहले मैंने कहा था कि हम नए शीत युद्ध में प्रवेश कर रहे हैं, लेकिन कोई भी मुझसे सहमत नहीं था। अब हर कोई सहमत है, लेकिन यह भी साफ हो चुका है कि दूसरे विश्व युद्ध में हालात तेजी से बदल रहे थे। इसकी अभी बस शुरुआत भर हुई है। उधर, अमेरिका में रूस के इस आकलन की जमकर खिल्ली उड़ाई जा रही है। अमेरिका में कहा जा रहा है कि यह दिलचस्प है कि रूसी ऐसी बेकार की बातों में विश्वास कर रहे हैं। ट्रंप के राष्ट्रपति चुने जाने के बाद से अमेरिकी बम शेल्टर प्रोड्यूसर्स का कारोबार लगातार बढ़ रहा है।बताते चलें कि अमेरिका और उसके सहयोगियों ने सीरियाई सेना और केमिकल रिसर्च सेंटर को निशाना बनाते हुए 100 मिसाइलें दागी हैं।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

7-डोकलाम विवाद से आगे बढ़ने की कोशिश में भारत व चीन, वार्ताओं का दौर जारी

नई दिल्ली। क्या भारत और चीन डोकलाम विवाद को पीछे छोड़ चुके हैं? इसका सीधा-सा जवाब देना फिलहाल तो मुश्किल है। लेकिन पिछले एक महीने से दोनों देशों के बीच जिस तेजी से हर द्विपक्षीय मुद्दे पर वार्ताएं हो रही है वह रिश्तों की पेंच सुलझाने के नए इरादे को बताता है। विदेश सचिव विजय गोखले की चीन यात्रा से जो सिलसिला शुरू हुआ था उसके बाद यानी पिछले एक महीने में भारत और चीन के बीच सात उच्चस्तरीय वार्ताएं हो चुकी है। इसके अलावा पीएम नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के चीन दौरे की तैयारियां चल रही है। स्वराज व सीतारमण मई में चीन जाएंगी। सिर्फ पिछले चार दिनों के दौरान ही भारत और चीन के बीच बातचीत का लेखा-जोखा देखें तो साफ हो जाता है कि तकरीबन उन हर मुद्दों पर दोनों देश बातचीत कर रहे हैं जो रिश्तों में तनाव का कारण बनते हैं। शनिवार को बीजिंग में दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंधों को प्रगाढ़ करने को लेकर बातचीत हुई।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

8-एससी एसटी कानून तक नहीं रुकेगी और धार पकड़ेगी दलित राजनीति

नई दिल्ली। चुनावी मौसम में तूल पकड़ रही दलित राजनीति में होड़ सिर्फ सियासी दलों में ही नहीं, दलित नेताओं के बीच भी दिखेगी। बात सिर्फ एससी एसटी कानून तक नहीं रुकेगी। आने वाले दिनों में अलग-अलग दलों और गठबंधन के दलित नेताओं की ओर से न सिर्फ एक-दूसरे को कठघरे में खड़ा करने की कोशिश होगी, बल्कि ऐसे मुद्दे भी उछाले जा सकते हैं जो पहली सरकारों के समय में भी पूरे नहीं हुए। एससी एसटी कानून पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ न सिर्फ विपक्ष, बल्कि सत्तापक्ष भी मुस्तैदी से खड़ा हो गया है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से कांग्रेस के 'दिखावटी दलित प्रेम' पर सवाल भी खड़ा किया गया है। वहीं केंद्रीय मंत्री व लोजपा अध्यक्ष की ओर से बसपा अध्यक्ष मायावती को घेरने की कोशिश हो चुकी है। उन्होंने दस्तावेज के सहारे आरोप लगाया है कि मायावती ने अपने काल में दो बार एससी एसटी कानून को कमजोर किया था।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

9-अक्षय तृतीया से पहले घटा सोने का आयात, पढ़िए इस साल कैसा रहेगा कारोबार

नई दिल्ली। अक्षय तृतीया के मौके पर सोना खरीदना शुभ माना जाता है। इसी के चलते सोने की इस दौरान सोने की मांग में तेजी देखने को मिलती है। लेकिन इस साल का ट्रेंड कुछ बदला नजर आ रहा है। एक्सपर्ट मान रहे हैं कि इस साल अक्षय तृतीय के मौके पर सोने की डिमांड में किसी बड़ी तेजी की संभावना कम है। अक्षय तृतीया पर कारोबार सामान्य रहने की उम्मीद है। आपको बता दें कि भारत चीन के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा गोल्ड कंज्यूमर देश है। अक्षय तृतीया 18 अप्रैल को है। इससे ठीक पहले मार्च 2018 के दौरान सोने का आयात 47 फीसद कम हुआ है।मार्च महीने में कुल 64.2 टन सोना भारत में आयात किया गया है, जबकि मार्च 2017 में यह आंकड़ा 121 टन का रहा था। अक्षय तृतीया पर सोने के कारोबार में ज्वैलर्स किसी बड़ी तेजी की उम्मीद नहीं लगा रहे हैं इसी के चलते आयात में कमी देखने को मिली है।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

10-हैदराबाद की लगातार तीसरी जीत, कोलकाता को 5 विकेट से हराया

नई दिल्ली। आइपीएल 2018 के 10वें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स को सनराइजर्स हैदराबाद ने 5 विकेट से हरा दिया। इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने टॉस जीतकर कोलकाता को पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया। कोलकाता ने 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 138 रन बनाए। हैदराबाद को जीत के लिए 139 रन का लक्ष्य मिला था जिसे इस टीम ने 19 ओवर में 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया। ये हैदराबाद की लगातार तीसरी जीत थी। दूसरी पारी में सुनील नरेन ने अपनी टीम कोलकाता को पहली सफलता दिलाई। साहा अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन नरेन की एक गेंद को खेलने की कोशिश में वो अपना कैच दिनेश कार्तिक को थमा बैठे। साहा ने 15 गेंदों पर 24 रन बनाए। शिखर धवन को भी नरेन ने सस्ते में चलता कर दिया और सिर्फ 7 रन के स्कोर पर क्लीन बोल्ड कर दिया।

 पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां पर क्लिक करें

 

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस