जयपुर, जेएनएन। राजस्थान के जालोर में शादी के बाद दुल्हन की विदाई में सिर्फ एक दिन की देरी पर ही दूल्हा इतना नाराज हो गया, उसने अपने ससुर की हत्या कर दी। बीच बचाव करने आए दुल्हन की मां और भाई भी इस हमले में बुरी तरह जख्मी हो गए। पुलिस ने आरोपी दूल्हे सहित 7 लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया हैं।

पुलिस के मुताबिक रामदेव कॉलोनी निवासी पपीया ने रिपोर्ट दर्ज कर बताया कि उसकी बहन गीता की शादी अशोक उर्फ असीया पुत्र पकाराम भील के साथ तय हुई थी। सोमवार को बरात आई और मंगलवार को धार्मिक रीति-रिवाजों के साथ शादी संपन्न हुई।

इसके बाद दूल्हा पक्ष ने बुधवार को विदाई की बात कही तो दुल्हन पक्ष ने इसके लिए गुरुवार का दिन तय किया। इससे दोनों पक्षों में विवाद हो गया। बुधवार सुबह दूल्हा बिना दुल्हन के लौट गया, लेकिन रात करीब 10 बजे उसने परिजनों के साथ आकर दुल्हन पक्ष के लोगों पर हमला कर दिया।

इसमें दुल्हन के पिता दुदाराम, मां ढेली व भाई पांचाराम घायल हो गए। इलाज के दौरान दुदाराम की मौत हो गई। दुल्हन गीता मौक गांव में रहती हैं। मौक गांव में भील समाज के किसी व्यक्ति की मृत्यु होने से शोक था।  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस