श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा है कि हिंसा की भेंट चढ़े हुए इराक में फंसे भारतीयों को सुरक्षित स्वदेश वापस लाना केंद्र सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती है। उन्होंने उम्मीद जताई कि केंद्र सभी भारतीयों को इराक से सुरक्षित निकालने के लिए कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी।

उन्होंने कहा कि इराक में चल रहे युद्ध का असर भारत में भी दिखाई पड़ रहा है। एक ओर जहां भारत में तेल की कीमतों में इजाफा हुआ है वहीं इसकी वजह से महंगाई की दर में भी इजाफा हुआ है। जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री ने कहा कि इराक में जो कुछ भी हो रहा है उसका प्रतिकूल असर भारत पर पड़ रहा है। उन्होंने इसके चलते बढ़ रही महंगाई पर भी चिंता जताई है।

गौरतलब है कि बुधवार को ही केंद्र सरकार ने इस बात की जानकारी दी थी कि इराक में करीब चालीस भारतीयों को अगवा कर लिया गया है। अगवा किए गए ज्यादातर पंजाब के हैं। इनमें से अधिकतर कंस्ट्रक्शन और तेल कंपनियों में काम कर रहे थे। माना जा रहा है कि इन लोगों को इस्लामिक आतंकी संगठन आईएसआईएस ने ही अगवा किया है। हालांकि अभी तक इन लोगों को अगवा करने की जिम्मेदारी किसी आतंकी संगठन ने नहीं ली है।

गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से इराक में अल कायदा समर्थित आतंकी गु्रप आईएसआईएस और सरकारी सेना के बीच जबरदस्त लड़ाई छिड़ी हुई है। इसकी बदौलत इराक समेत दुनिया के दूसरे देशों में तेल व्यवसाय पर बेहद प्रतिकूल असर पड़ रहा है।

पढ़ें: अगवा भारतीयों की सुरक्षित वापसी के लिए पूरी कोशिश कर रही सरकार: सुषमा स्वराज

इराक ने लगाई अमेरिका से मदद की गुहार, कभी भी हो सकता है हमला

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस