मुंबई, प्रेट्र। महाराष्ट्र के आवास मंत्री के अज्ञात समर्थकों और पुलिसकर्मियों के खिलाफ एक व्यक्ति की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया है कि एक फेसबुक पोस्ट को लेकर आवास मंत्री जितेंद्र अव्हाड़ के ठाणे स्थित आवास पर उसकी पिटाई की गई। नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फड़नवीस ने बुधवार को कहा कि राकांपा नेता अव्हाड़ को उद्धव ठाकरे की अगुआई वाली सरकार से बर्खास्त किया जाना चाहिए। पूर्व मुख्यमंत्री ने इस संबंध में राज्यपाल बीएस कोश्यारी से मुलाकात भी की।

वर्तक नगर थाना में दर्ज किया गया मामला 

पुलिस उपायुक्त अविनाश अंबुरे ने बताया कि पीड़ित अनंत कार्मुसे की शिकायत पर ठाणे में वर्तक नगर थाने में हमला, अपहरण और आपराधिक धमकी का मामला दर्ज किया गया है। डीसीपी ने कहा कि एफआइआर में आरोपितों की पहचान दर्ज नहीं है। मामले की जांच की जा रही है, लेकिन अभी किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

इंजीनियर से मंत्री के आवास पर की गई मारपीट 

यह कथित घटना रविवार को हुई थी, जब पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के खिलाफ लोगों को दिया या मशाल जलाने को कहा था। घोड़बंदर के निवासी अनंत कार्मुसे ने जितेंद्र अव्हाड़ के चेहरे के साथ एक मोर्फेड तस्वीर पोस्ट की थी। हाथ में स्टिक लिए हुए एक कैप्शन लिखा था कि मैं उस व्यक्ति के खिलाफ विरोध करता हूं जिसने फोटो को संपादित किया है।

पेशे से सिविल इंजीनियर कार्मुसे ने आरोप लगाया है कि रविवार की रात कुछ पुलिसकर्मी उसके घर आए और उससे थाने चलने को कहा, लेकिन वे लोग उसे मंत्री के बंगले पर ले गए। वहां 10 से 15 लोगों ने उसकी पिटाई की। फेसबुक पर मंत्री की एक विकृत की गई तस्वीर साझा करने के कारण उसके साथ ऐसा व्यवहार किया गया।

उसने आरोप लगाया है कि उस समय मंत्री वहां मौजूद थे। इससे पहले भी महाराष्‍ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक के भाई ने मुंबई में अपने भाई का रौब दिखाते हुए मारपीट की थी। शिवसेना के कार्यकर्ता भी फेसबुक पोस्‍ट को लेकर लोगों से मारपीट कर चुके हैं।      

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस