बीजापुर, एएनआइ। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर नक्सली हमले की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं।विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के 24 घंटे पहले नक्सली हमले शुरू हो गए हैं। बीजापुर के बेदरे थाना क्षेत्र में सुरक्षाबलों और माओवादियों के बीच मुठभेड़ में एक वर्दीधारी नक्सली मारा गया, जबकि एक पकड़ा गया है। बीजापुर एसपी मोहित गर्ग ने मुठभेड़ की पुष्टि की है। माओवादियों पास से हथियार और गोला-बारूद बरामद किए गए हैं। सेना और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ अभी भी जारी है। वहीं कांकेर जिले के गोमे और गट्टाकाल के बीच नक्सलियों द्वारा किए गए 6 सीरियल आईईडी धमाके में एक बीएसएफ जवान घायल हो गया।

जानकारी के मुताबिक एसटीएफ और डीआरजी के जवान सर्चिंग के लिए निकले थे। इसी दौरान घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी, सुरक्षाबलों द्वारा की गई जवाबी फायरिंग के बाद नक्सली जंगल में भाग खड़े हुए। मुठभेड़ के बाद जब इलाके की तलाशी ली गई तो वहां एक वर्दीधारी नक्सली का शव बरामद हुआ, उसके पास से हथियार भी बरामद किया गया है।

कांकेर में सीरियल आईईडी  बलास्ट
वहीं छत्तीसगढ़ में कांकेर जिले के गोमे और गट्टाकाल के बीच नक्सलियों द्वारा किए गए 6 सीरियल आईईडी धमाके में एक बीएसएफ जवान घायल हो गया। घायल जवान का नाम महेंद्र कुमार है। इसमें जिला पुलिस के जवानों के भी घायल होने की खबर सामने आ रही है। बीएसएफ के आईजी जयभगवान सांगवान ने घटना की पुष्टि की है। बताया जा रहा है कि कोयलीबेड़ा थाना इलाके में सुरक्षाबलों की टीम सर्चिंग के लिए निकली थी। इसी दौरान नक्सलियों ने एक साथ 6 आईईडी धमाके कर दिया। इस दौरान नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच फायरिंग होने की भी खबर है। घायल बीएसएफ जवान को अंतागढ़ अस्पताल ले जाया जा रहा है।

नक्सली हमले में पत्रकार की मौत

बता दें कि इससे पहले गुरुवार को दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों ने एक बस को आइईडी (इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) से ब्लास्ट कर उड़ा दिया था। इस हमले में जहां चार लोगों की मौत हो गई थी, वहीं सीआइएसएफ का एक जवान शहीद हो गया था। हमले में दो जवान घायल भी हो गए थे। तीस अक्टूबर को भी नक्सलियों ने दंतेवाड़ा में हमला किया था। अरनपुर इलाके में किए गए इस हमले में डीडी न्यूज के एक कैमरामैन की मौत के साथ ही तीन पुलिस वाले शहीद हो गए थे।

12 नवंबर को चुनाव

गौरतलब है कि राज्य में 12 नवंबर को नक्सल प्रभावित 18 विधानसभा क्षेत्रों में पहले चरण का मतदान होगा। पहले चरण के तहत नक्सल प्रभावित आठ जिले बस्तर, कांकेर, सुकमा, बीजापुर, दंतेवाड़ा, नारायणपुर कोंदगांव और राजनांदगांव में मतदान होना है।

Posted By: Arti Yadav