सुकमा, एएनआइ। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में रविवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड हुई है। एसपी सुनील शर्मा ने कहा, सुकमा जिले के मिनपा और पद्दीगुड़ा के जंगलों में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। 

Chhattisgarh: Encounter breaks out between security forces and Naxals in the jungles of Minpa & Paddiguda in Sukma district, says SP Sunil Sharma

रविवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई इस मुठभेड में एक नक्सली की मौत हो गई है।

इससे एक दिन पहले शनिवार को दंतेवाड़ा जिले में चल रहे लोन वर्राटू (घर वापसी) अभियान के तहत चार नक्सलियों ने एसपी अभिषेक पल्लव के समक्ष आत्मसमर्पण किया था। इन पर विभिन्न थानों में कई मामले दर्ज हैं। एसपी डा अभिषेक पल्लव ने बताया कि नक्सलियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर और शासन की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर इन नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया था। उन्होंने बताया कि दरभा डिवीजन के मलांगीर एरिया कमेटी में सक्रिय रहे नक्सली मोटू मरकाम, ललिता तामो, बामन राम कुंजाम तथा भीमा मरकाम सभी जनमिलिशिया सदस्य निवासी मड़कामीरास ने किरंदुल में आत्मसमर्पण किया। इन नक्सलियों का चोलनार में आइइडी ब्लास्ट कर वाहन उड़ाने समेत कई घटनाओं में हाथ रहा है। सभी नक्सलियों को शासन के पुनर्वास नीति के तहत लाभान्वित किया जाएगा। उन्हें प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई और इसके साथ ही कोविड वैक्सीनेशन भी करवाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें : कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के सुधाकर ने कहा, 2030 तक पर्किंसंस डिजीज के रोगियों में आएगी 200-300 फीसद की वृद्धि

यह भी पढ़ें : Karnataka Flood News : कर्नाटक में भारी बारिश और बाढ़ में गई नौ लोगों की जान, तीन लापता

Edited By: Neel Rajput