नई दिल्ली, एएनआइ। लोकसभा चुनावों के नतीजों के बाद आदर्श आचार संहिता हटा दी गई है। चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनावों और आंध्र प्रदेश, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव के नतीजों के एलान के बाद आदर्श आचार संहिता तुरंत प्रभाव से हटा दी गई है।

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 चुनाव 11 अप्रैल को शुरू हुए। सात चरणों में चुनाव के बाद13 मई को नतीजे घोषित किए गए थे। लगभग एक से डेढ़ महीने तक आदर्श आचार संहिता  लगी रही थी। 

क्या है आदर्श आचार संहिता?

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 324 के अधीन संसद और राज्य विधान मंडलों के स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण निर्वाचन हेतु निर्वाचन आयोग आदर्श आचार संहिता तैयार करता है। इसका लिखित और भावात्मक रूप से अनुपालन और सम्मान करने को सभी राजनीतिक दल, सरकार और उम्मीदवार बाध्य है। अनुपालन न होने पर आयोग कारण बताओ नोटिस, मामले की जांच, प्राथमिकी दर्ज कराने और कुछ मामलों में उम्मीदवार को अयोग्य ठहराने का भी अधिकार रखता है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Neel Rajput

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस