नई दिल्ली, जेएनएन। देशभर में मंगलवार को ईद (Eid) का चांद दिखने के बाद आज ईद-उल-फितर मनाई जा रही है। ईद के मौके पर रोजेदारों ने एक दूसरे को गले लगाकर बधाई दी और देश दुनिया में अमन-चैन की दुआं मांगी।

जम्मू कश्मीर के कृष्णा घाटी सेक्टर में सेना के जवानों ने लोगों को ईद-उल-फितर के मौके पर बधाई दी।

ईद का चांद दिखने के बाद एक महिने से चल रहा रमजान का पाक महीना आज खत्म हो गया है। रमजान के पूरे महीने मुस्लिम समुदाय के लोग बिना कुछ खाए-पिए रोजा रखते हैं।

दिल्ली में ईद के मौके पर बीजेपी नेता शाहनवाज़ हुसैन, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद और पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने संसद मार्ग मस्जिद में नमाज़ अदा की।

ईद-उल-फितर के मौके अटारी-वाघा बॉर्डर पर बीएसएफ के जवानों ने पाकिस्तानी सेना के जवानों को मिठाई दी।

सिलीगुड़ी में भारत-बांग्लादेश बॉर्डर के पास बॉर्डर सिक्यॉरिटी फोर्स और बॉर्डर गॉर्ड्स बांग्लादेश के जवानों ने ईद-उल-फितर के मौके पर एक दूसरे को मिठाइयां दीं।

हैदराबाद के मक्का मस्जिद में नमाजियों ने नमाज अदा की और ईद-उल-फितर का जश्न मनाया।

गुजरात के वडोदरा में क्रिकेटर युसुफ पठान ने तैफ नगर मस्जिद में ईद की नमाज अदा की।

ईद-उल-फितर के मौके पर प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी को बधाई दी।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ईद के मौके पर सभी को बधाई दी।

आज ईद उल फितर (Eid Ul Fitr) केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने नई दिल्ली में कश्मीरी गेट स्थित दरगाह में नमाज़ अदा की और देश में शांति, समृद्धि, सुरक्षा, भाईचारे की दुआ मांगी।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मुख्यमंत्री कमलनाथ, कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह और ऐक्टर रजा मुराद ने ईद-उल-फितर के मौके पर लोगों को बधाई दी।

मध्य प्रदेश में बड़े से लेकर बच्चें तक सभी ईद के जश्न में डूबे हुए हैं। भोपाल के ईदगाह में लोगों ने नमाज अदा की।

ईद- उल- फितर के मौके पर दिल्ली के जामा मस्जिद में नमाजियों ने नमाज अदा की।

चांद देखने के बाद ही ईद क्यों, जानिए

हिन्दू और मुस्लिम त्योहारों में चांद का बड़ा महत्व है। बिना चांद को देखे कोई व्रत या त्योहार नहीं मनाया जाता या उसे अधूरा माना जाता है। ईद-उल-फितर हिजरी कैलेंडर के 10वें माह के पहले दिन मनाई जाती है। हिजरी कैलेंडर में नया माह चांद देखकर ही शुरू होता है। जब तक चांद नहीं दिखे, तब तक रमजान का महीना खत्म नहीं माना जाता है। रमजान का महीना खत्म होने के बाद ही नए माह के पहले दिन ईद मनाई जाती है। माना जाता है कि इसी दिन हजरत मुहम्मद मक्का से मदीना के लिए निकले थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manish Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस