लखनऊ। उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में हुए डीएसपी जिया-उल-हक हत्याकांड को लेकर पूर्व मंत्री राजा भैया पॉलीग्राफिक टेस्ट कराने के लिए तैयार हो गए हैं। राजा भैया मंगलवार को सीबीआइ कोर्ट में पेश होने के लिए लखनऊ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पत्रकारों को बताया कि जिया-उल-हक हत्याकांड की सच्चाई हर हाल में सामने आनी चाहिए। इसके लिए वह सीबीआइ का हर संभव सहयोग करेंगे। जरूरत पड़ने पर पॉलीग्राफिक टेस्ट कराने से भी पीछे नहीं हटेंगे।

गौरतलब है कि बीते दो मार्च को कुंडा क्षेत्र के बलीपुर गांव में प्रधान बंधु और डीएसपी हक की हत्या कर दी गई थी। प्रदेश सरकार ने इस मामले की जांच सीबीआइ को सौंपी है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस