नई दिल्ली, पीटीआइ। राष्ट्रीय दवा मूल्य प्राधिकरण (Drug pricing regulator, NPPA) ने शुगर, सिरदर्द और हाई ब्लड प्रेशर से जुड़ी 84 जरूरी दवाओं की खुदरा कीमत तय कर दी है। इसके अलावा बढ़े हुए कोलेस्ट्राल और ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को कम करने में इस्तेमाल होने वाले फार्मूलेशन की कीमतें भी तय की गई हैं। प्राधिकरण की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक, दवा (मूल्य नियंत्रण) आदेश, 2013 की शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए दवाओं की खुदरा कीमत की गई है।

अधिसूचना के अनुसार, वोग्लिबोस और (एसआर) मेटफार्मिन हाइड्रोक्लोराइड की एक टैबलेट की कीमत 10.47 रुपये होगी। इसमें जीएसटी शामिल नहीं है। इसी तरह पैरासिटामोल और कैफीन की कीमत 2.88 रुपये प्रति टैबलेट तय की गई है। एक रोसुवास्टेटिन एस्पिरिन और क्लोपिडोग्रेल कैप्सूल की कीमत 13.91 रुपये तय की गई है।

एक अन्य अधिसूचना में एनपीपीए ने कहा कि लिक्विड मेडिकल आक्सीजन और आक्सीजन इनहेलेशन (औषधीय गैस) की संशोधित अधिकतम कीमत को इस साल 30 सितंबर तक बढ़ा दिया है। एनपीपीए देश में नियंत्रित थोक दवाओं और फार्मूलेशन की कीमतों को तय या संशोधित करता है। दवाओं की कीमतों और उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी भी इसके पास है। यह गैर-नियंत्रित दवाओं की कीमतों को उचित स्तर पर रखने के लिए उनकी निगरानी भी करता है।

 

Edited By: Krishna Bihari Singh