चेन्नई। लंबे समय तक केंद्र की संप्रग सरकार में शामिल रहे द्रमुक के ज्यादातर नेता 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से गठबंधन के पक्ष में नहीं हैं। पार्टी प्रमुख एम करुणानिधि की अध्यक्षता में रविवार को हुई द्रमुक महापरिषद की बैठक में ज्यादातर वक्ताओं ने कांग्रेस से दूरी बनाने की बात की। पार्टी नेताओं के रुख को देखते हुए देर रात करुणानिधि ने एलान किया कि द्रमुक आगामी लोकसभा चुनाव में न कांग्रेस और न ही भाजपा के साथ गठबंधन करेगी।

द्रमुक की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

लोकसभा चुनाव और अन्य मुद्दों पर रणनीति बनाने के लिए द्रमुक महापरिषद की बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक में हिस्सा लेने वाले एक नेता ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि कई वक्ताओं ने आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठजोड़ करने के बजाय अकेले चुनाव लड़ने की सलाह दी।

गौरतलब है कि द्रमुक श्रीलंका में तमिलों की स्थिति के मुद्दे पर कांग्रेस नीत केंद्र की संप्रग-2 सरकार से बाहर हो गई थी। बाद में हालांकि कांग्रेस की ही मदद से करुणानिधि की बेटी कनीमोरी दोबारा राज्यसभा के लिए चुनी गई थीं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर