जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। अक्सर विरोधियों पर अपने बयानों से विवादों में रहने वाले कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने इस बार अपनी ही पार्टी पर बम फोड़ दिया है। राहुल गांधी की टीम की सक्रिय सदस्य और महिला सांसद मीनाक्षी नटराजन के बारे में उनकी अभद्र टिप्पणी उन पर तो भारी पड़ती नजर आ ही रही है। साथ ही कांग्रेस के लिए भी इस पर बचाव करना मुश्किल हो गया है। दरअसल अपने आपको जौहरी बताते हुए उन्होंने मीनाक्षी नटराजन को 'सौ टका टंच माल' बता दिया। इस पर भाजपा ने तीखा तंज कसते हुए दिग्विजय सिंह से पूछा है कि वह सोनिया गांधी को कितने नंबर देंगे।

पढ़ें: आरएसएस बम बनाना सिखाता है: दिग्विजय

मंदसौर में शुक्रवार को मीनाक्षी की 'तारीफ' में दिग्विजय सारी सीमाएं लांघ गए। खुद को राजनीति का जौहरी बताते हुए उन्होंने कहा कि वह असली-नकली की खूब परख रखते हैं। इसी कड़ी में उन्होंने जोड़ा कि 'मीनाक्षी सौ टका टंच माल हैं।' दिग्विजय ने इस भदेस टिप्पणी पर सभा में तालियां तो खूब बटोर लीं, लेकिन चौतरफा इसकी आलोचना भी शुरू हो गई। पार्टी के लिए इस बयान ने मुश्किल खड़ी कर दी है। भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष सरोज पांडे ने इसे शर्मनाक करार दिया।

उन्होंने कहा कि यह साबित करता है कि महिलाओं के बारे में दिग्विजय की क्या सोच है? साथ ही उन्होंने दिग्विजय से पूछा, 'यदि वह माफी नहीं मांगते हैं तो उन्हें यह भी बता देना चाहिए कि सोनिया गांधी को वह कितना नंबर देंगे।'

कांग्रेस प्रवक्ता रेणुका चौधरी से जब इस संबंध में पूछा गया तो उनका जवाब था कि उन्होंने बयान सुना नहीं हैं और न ही यह पता है कि यह टिप्पणी किस संदर्भ में की गई। अगर वह नटराजन की तारीफ कर रहे थे तो विवाद यहीं खत्म हो जाना चाहिए। आंध्र प्रदेश से आने वाली रेणुका चौधरी ने कहा कि उन्हें इस वाक्य का अर्थ ही नहीं पता है।

आरोप पर जवाब देना फिजूल

दिग्विजय सिंह को बटला हाउस मुठभेड़ में अदालत का फैसला भी चुप नहीं करा सका है। एक बार फिर से आरएसएस पर बम बनाने के प्रशिक्षण का आरोप लगाकर सियासी माहौल गरमाने की कोशिश की। बटला हाउस मुठभेड़ को सही करार देते हुए अदालत ने गुरुवार को दिग्विजय के उस बयान को खारिज कर दिया था जिसमें उन्होंने मुठभेड़ फर्जी होने की बात कही थी। पहले तो दिग्विजय ने कहा कि वह अपने पुराने बयान पर कायम हैं और उस मामले की न्यायिक जांच होनी चाहिए थी। इसके तुरंत बाद उन्होंने अपने प्रिय विषय हिंदू आतंकवाद के जरिये संघ पर फिर कुछ बम गिराए।

कांग्रेस महासचिव ने आरोप लगाया कि संघ में लोगों को बम बनाने का प्रशिक्षण दिया जाता है। भाजपा ने दिग्विजय के इस बयान को खारिज करते हुए प्रतिक्रिया जताने से भी इन्कार कर दिया गया। वरिष्ठ भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद समेत तमाम नेताओं ने एक सुर में कहा कि दिग्विजय इतने छिछले हो गए हैं कि उनका जवाब देना फिजूल है। दिग्विजय पहले भी इसी तरह का आरोप लगा चुके हैं। तब भाजपा ने आपत्तिजताते हुए माफी की मांग की थी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप