नई दिल्ली [अजय पांडेय]। दिल्ली के रेलवे स्टेशनों और यात्रियों पर आतंकी हमले का खतरा मंडरा रहा है। इस खतरे के मद्देनजर सुरक्षा एजेंसियां नई दिल्ली, दिल्ली, आनंद विहार, हजरत निजामुद्दीन और सराय काले खां रेलवे स्टेशनों सहित आसपास के इलाकों में सुरक्षा प्रबंध पुख्ता करने में जुटी हैं। इन इलाकों को पैराग्लाइडर, पैरासेल, मानवरहित विमान (यूएवी), हॉट एयर बैलून और हैंग ग्लाइडर के लिए नो फ्लाइंग जोन घोषित कर दिया है।

एसीपी ओमप्रकाश सिंह द्वारा जारी किए गए एक सरकारी नोट में कहा गया है कि राजधानी के सभी प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर आतंकी हमले की आशंका है। केंद्रीय गृह मंत्रालय से लेकर दिल्ली के मुख्य सचिव तक को इस संबंध में अवगत करा दिया गया है। एसीपी द्वारा जारी नोट के मुताबिक ऐसे संकेत मिले हैं कि आतंकवादी रेलवे स्टेशनों को निशाना बनाने के लिए पैराग्लाइडर, पैरासेल, मानवरहित विमान, रिमोट संचालित विमान, हॉट एयर बैलून, हैंग ग्लाइडर आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं।

सरकारी आदेश में दिल्ली के मेट्रो स्टेशनों का स्पष्ट तौर पर कोई जिक्र नहीं किया गया है, लेकिन यह जरूर कह गया है कि प्रमुख रेलवे स्टेशन और इसके आसपास के क्षेत्रों में आतंकी हमले की आशंका है। ऐसे में माना जा रहा है कि मेट्रो स्टेशनों को भी खतरे की आशंका वाले क्षेत्र में गिना जाएगा। कम से कम नई दिल्ली, दिल्ली जंक्शन, आनंद विहार आदि रेलवे स्टेशनों के पास स्थित मेट्रो स्टेशन तो खतरे की आशंका वाले क्षेत्र में निश्चित रूप से शामिल हैं।

उच्चपदस्थ सूत्रों ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस के मद्देनजर राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर पहले ही अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। अब रेलवे स्टेशनों और उसके आसपास के क्षेत्रों में भी सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए जा रहे हैं।

Posted By: Bhupendra Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस