नई दिल्ली, एएनआइ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दिए गए आपत्तिजनक बयान को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। साल 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दिए गए आपत्तिजनक बयान पर राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि मामले में कोर्ट 22 मई को सुनवाई करेगा। इससे पहले मामले को लेकर दिल्ली पुलिस ने रोस एवेन्यू कोर्ट में एक्शन टेकन रिपोर्ट दायर की।

अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल के समक्ष पेश रिपोर्ट में पुलिस ने कहा कि राहुल गांधी ने कथित तौर पर प्रधानमंत्री के खिलाफ मानहानि का बयान दिया, जिसके लिए मुकदमा दायर किया जा सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक मामले में पुलिस ने अबतक कोई कार्रवाई नहीं की है।

पुलिस ने रिपोर्ट में कहा है कि शिकायत की सामग्री के आधार पर ये कोई संज्ञेय अपराध नहीं है। राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ मानहानि का बयान दिया, जिसके लिए उस व्यक्ति द्वारा मानहानि का मुकदमा दायर किया जा सकता है, जिसके खिलाफ राहुल गांधी ने बयान दिया है। बता दें कि अदालत ने 26 अप्रैल को पुलिस को कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की याचिका पर एक्शन टेकर रिपोर्ट दायर करने का निर्देश दिया था।

साल 2016 में पीएम मोदी पर राहुल गांधी द्वारा की गई आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर वकील जोगिंदर तुली शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत में वकील जोगिंदर तुली ने पीएम के खिलाफ अपमानजनक बयान देने के लिए राहुल गांधी के खिलाफ यू / एस 124 ए के तहत एफआइआर दर्ज करने की मांग की थी। दरअसल, राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सैनिकों के खून के पीछे छिपकर और उनके बलिदान पर 'दलाली' करने का आरोप लगाया था।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Manish Pandey