नई दिल्‍ली, एजेंसियां। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को कहा कि 26/11 जैसा हमला दोबारा नहीं होने पाए इसके लिए नौसेना ने खास सतर्कता बरतने का काम किया है। नई दिल्‍ली में नौसेना के कमांडरों की कॉन्‍फ्रेंस को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत कभी हमलावर नहीं रहा है लेकिन उसकी सेनाएं बुरी नजर डालने वाले लोगों को करारा जवाब देने में सक्षम हैं। रक्षा मंत्री का यह बयान ऐसे वक्‍त में सामने आया है जब भारत और पाकिस्‍तान के बीच तनाव चरम पर पहुंचने की ओर है। 

रक्षा मंत्री ने पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद के उस बयान पर करारा पलटवार किया जिसमें राशिद ने कहा था कि अब भारत के साथ चार-छह दिन तोपें नहीं चलेगी, हवाई हमले या नेवी के गोले नहीं चलेंगे बल्‍कि सीधे परमाणु परमाणु युद्ध होगा। वहीं भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्‍तान पर परोक्ष रूप से हमला बोलते हुए कहा कि हम किसी भी हमले का मुंहतोड़ जवाब देंगे।  

बता दें कि राजनाथ सिंह ने सोमवार सियाच‍िन का दौरा किया था। इस दौरान सरकार राजनाथ सिंह ने कहा था कि सरकार ने सियाचिन आधार शिविर से लेकर कुमार पोस्ट तक समूचे क्षेत्र को पर्यटन उद्देश्यों के लिए खोलने का फैसला किया है। यह फैसला इसलिए किया गया है ताकि लोग जान सकें कि सेना के जवान और इंजीनियर कितनी विषम परिस्थितियों में काम करते हैं।  

गौरतलब है कि राजना‍थ सिंह का यह बयान ऐसे वक्‍त में सामने आया है जब पाकिस्तानी सेना ने अपनी तोपों को एलओसी के करीब तैनात करने का काम शुरू किया है। यही नहीं टैंकों को भी सीमा की तरफ बढ़ाया जा रहा है। पाकिस्‍तान ने एलओसी पर अपने जवानों की संख्या को भी बढ़ाया है। मालूम हो कि रविवार को ही भारतीय सेना ने तंगडार से PoK में आतंकियों के लॉन्चिंग पैड को निशाना बनाया था। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस